फिर बढ़ सकता है डीए , केन्द्रीय कर्मचारियों की हो सकती है बल्ले-बल्ले,एक जनवरी से इतनी बढ़ेगी सैलरी, यहां देखें पूरा कैलकुलेशन


केन्द्रीय कर्मचारियों की बल्ले-बल्ले,एक जनवरी से इतनी बढ़ेगी सैलरी, यहां देखें पूरा कैलकुलेशन
नई दिल्ली: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बहुत ही अच्छी खबर है।नए साल 2022 में केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स को केंद्र सरकार बड़ा तोहफा दे सकती है। सबकुछ ठीक रहा तो महंगाई भत्ते (DA) डीए और महंगाई राहत (DR) में केंद्र सरकार फिर से बढ़ोतरी कर सकती है। जानकारों के मुताबिक इसबार भी डीए और डीआर में 3 फीसदी तक की बढ़ोतरी होगी। इससे केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता और महंगाई राहत 31 फीसदी से बढ़कर 34 फीसदी हो जाएगी। इससे करीब 47 लाख केंद्रीय कर्मचारियों और 68 लाख पेंशनर्स को फायदा होगा।



हालांकि, अभी तक यह तय नहीं हुआ है कि जनवरी 2022 में महंगाई भत्ते में कितना इज़ाफ़ा होगा। फिलहाल महंगाई भत्ते को लेकर AICPI इंडेक्स के आंकड़ों से अंदाजा लगाया जा रहा है। AICPI आंकड़ों के मुताबिक सितंबर 2021 तक के आंकड़े आ चुके हैं। इसके मुताबिक महंगाई भत्ता 32.81 फीसदी हो चुका है। जून 2021 तक के आंकड़ों के हिसाब से जुलाई 2021 के लिए महंगाई भत्ता 31 फीसदी बढ़ाया जा चुका है। अब उसके आगे के आंकड़ों के मुताबिक DA का कैलकुलेशन होगा और इसमें अच्छी बढ़त देखने को मिल रहा है।

अगर दिसंबर 2021 तक CPI (IW) का आंकड़ा 125 तक रहता है तो डीए में 3 फीसदी का इजाफा होगा। यानी कुल डीए 31 फीसदी से बढ़कर 34 फीसदी हो जाएगा। इसके हिसाब से केंद्रीय कर्मचारियों को जनवरी 2022 से भुगतान होगा और उनकी सैलरी में बंपर इजाफा हो सकता है।


हम आपको बता दें केन्द्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 17 से बढ़कर 31 फीसदी हो गई है। केन्द्रीय कर्मचारियों को पहले 17 फीसदी महंगाई भत्ता दिया जा रहा था। 1 जुलाई 2021 से इसे बढ़ाकर 28 फीसदी कर दिया गया है। जनवरी 2020 में डीए 4 फीसदी बढ़ा था, फिर जून 2020 में 3 फीसदी बढ़ाया गया और जनवरी 2021 में यह 4 फीसदी बढ़ाया गया है।


न्यूनतम बेसिक सैलरी पर कैलकुलेशन


- कर्मचारी की बेसिक सैलरी 18,000 रुपये


- नया महंगाई भत्ता (34%) 6120 रुपये/माह


- अब तक महंगाई भत्ता (31%) 5580 रुपये/माह


- कितना महंगाई भत्ता बढ़ा 6120- 5580 = 540 रुपये/माह


- सालाना सैलरी में इज़ाफ़ा 540X12= 6,480 रुपये


अधिकतम बेसिक सैलरी पर कैलकुलेशन


- कर्मचारी की बेसिक सैलरी 56900 रुपये


- नया महंगाई भत्ता (34%) 19346 रुपये /माह


- अबतक महंगाई भत्ता (31%) 17639 रुपये /माह


- कितना महंगाई भत्ता बढ़ा 19346-17639= 1,707 रुपये/माह


- सालाना सैलरी में इजाफा 1,707 X12= 20,484 रुपये


इस बीच खबरें आ रही है कि बजट 2022 से पहले फिटमेंट फैक्टर को लेकर भी फैसला हो सकता है। अगर ऐसा होता है तो न्यून्तम वेतन में भी इजाफा होगा। अगर केन्द्र सरकार फिटमेंट फैक्टर को अपनी मंजूरी दे देती है तो कर्मचारियों की सैलरी में भी बहुत बंपर इजाफा होगा। दरअसल फिटमेंट फैक्टर बढ़ने से न्यूनतम वेतन भी बढ़ जाएगा। मौजूदा समय में कर्मचारियों को 2.57 फीसदी फिटमेंट फैक्टर के आधार पर सैलरी मिल रही है। अब इसे बढ़ाकर 3.68 फीसदी किए जाने पर विचार किया जा रहा है। अगर ऐसा हुआ तो कर्मचारियों की न्यूनतम सैलरी में 8 हजार रुपये तक की बढ़ोतरी होगी। यानी अब तक मिलने वाला न्यूनतम सैलरी 18000 रुपये से बढ़कर 26000 रुपये हो जाएगी।


केंद्र सरकार 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों को भी पूरी तरह लागू करना चाहती है लेकिन, न्यूनतम सैलरी को बढ़ाने के पक्ष में नहीं है। सरकार फिटमेंट फैक्‍टर को 3 गुना बढ़ा सकती है। फिटमेंट फैक्टर के बढ़ने से कर्मचारियों की बेसिक पे 18000 रुपये से बढ़कर 21000 रुपये हो जाएगी। कैबिनेट सचिव से कर्मचारी यूनियन की मुलाकात में उन्हें भरोसा भी दिया था। सूत्रों की मानें तो सरकार अब फिटमेंट फैक्टर की तरफ ज्यादा ध्यान दे रही है।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇