सरकारी शिक्षक हैं कोचिंग से भागने वाले गुरुजी


फिरोजाबाद ।
बीते दिनों शिकोहाबाद में जिला विद्यालय निरीक्षक के छापे के दौरान कोचिंग से मुंह छिपाकर भागने वाला शिक्षक सरकारी निकला है। यह इंटर कॉलेज में पढ़ाता है । विभाग शिक्षक के खिलाफ साक्ष्य जुटाने में लगा है, ताकि शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई की जा सके।


शिकोहाबाद के एक कोचिंग सेंटर में जिला विद्यालय निरीक्षक ने छापा मारा था। जिविनि को देख कर छात्राओं को कोचिंग में पढ़ा रहा शिक्षक मुंह छिपाते हुए भाग गया था। बुलाने पर भी वह नहीं आया। सरकारी शिक्षकों के कोचिंग चलाने पर रोक लगी हुई है। अगर कोई शिक्षक कोचिंग पढ़ाते हुए मिलता है तो उस पर सख्त कार्रवाई का प्रावधान है। विभाग को पता चला है कि उक्त शिक्षक एक इंटर कॉलेज में शिक्षक है। जिला विद्यालय निरीक्षक बाल मुकुंद प्रसाद ने कहा है कि शिक्षक की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी बनाई जा रही है। कमेटी की रिपोर्ट के बाद में सख्त कार्रवाई की जाएगी।

निशाने पर हैं कोचिंग पढ़ाने वाले शिक्षक : सरकारी शिक्षक होने के बाद भी जो कोचिंग पढ़ा रहे हैं, वह विभाग के निशाने पर हैं। ऐसे शिक्षकों की सूची तैयार की जा रही है, जल्द ही विभाग द्वारा इनके खिलाफ बड़ा अभियान चलाकर कार्रवाई की जाएगी।

बेसिक के शिक्षक भी पढ़ाते हैं कोचिंग
बेसिक शिक्षा विभाग में कार्यरत कई शिक्षक भी कोचिंग पढ़ा रहे हैं। इन्होंने दूसरों के नाम से पंजीकरण करा रखा है तो कुछ शहर के बड़े कोचिंग सेंटरों में चोरी-छिपे क्लास ले रहे हैं। अभियान में इन शिक्षकों पर भी कार्रवाई होना तय है।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇