निलंबित शिक्षक ने बीएसए को भेजा त्यागपत्र, यह लगाए आरोप

मैनपुरी। बेसिक शिक्षा विभाग में निलंबित चल रहे शिक्षक ने अधिकारियों को भेजे पत्र का जवाब नहीं मिलने पर नौकरी से त्यागपत्र दे दिया है। शिक्षक ने मंगलवार को यह त्यागपत्र व्हाट्सएप के माध्यम से बीएसए को भेजा।


मामला घिरोर विकास खंड के कंपोजिट विद्यालय नाहिली से जुड़ा है। यहां तैनात इंचार्ज प्रधानाध्यापक राजेश कुमार को 29 मार्च को बीएसए ने अन्य शिक्षकों की शिकायत पर निलंबित कर दिया था। राजेश ने जिलाधिकारी, सीडीओ और बीएसए को भेजे पत्रों में अपना पक्ष रखते हुए शिक्षकों की लापरवाही के आरोप लगाए। अधिकारियों से पत्रों का जवाब न मिलने पर राजेश कुमार ने मंगलवार को बीएसए कमल सिंह को अपना त्यागपत्र भेज दिया।

यह लगाए आरोप
शिक्षक ने अधिकारियों को भेजे पत्रों में आरोप लगाया कि विद्यालय के अन्य शिक्षक समय से विद्यालय नहीं आते हैं, जिसकी सूचना शिक्षाधिकारियों को दी गई। उन पर कार्रवाई न करते हुए बीएसए ने उन्हें निलंबित कर दिया।
शिक्षक निलंबित चल रहा है। व्हाट्सएप पर त्यागपत्र भेजा है। इसका कोई मतलब नहीं है। जब तक शिक्षक व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर हार्ड कॉपी नहीं देता तब तक कोई निर्णय लेना संभव नहीं है। यदि शिक्षक व्यक्तिगत रूप से त्यागपत्र की कॉपी देता है तो उस पर विचार किया जाएगा।
कमल सिंह, बीएसए।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇