बढ़ती ठंड के मद्देनजर कस्तूरबा विद्यालयों में अवकाश घोषित किए जाने की मांग


बलरामपुर।

जिले के वेलफेयर कार्यक्रम में आए बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी को केजीबीवी शिक्षक शिक्षणेत्तर वेलफेयर एसोसिएशन प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री संबोधित ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में मुख्य रूप से प्राइमरी एवं जूनियर स्कूलों के भारती भीषण ठंड में कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों में अवकाश घोषित करने की मांग की है।




जिला मुख्यालय के ज्योति टॉकीज सभागार में आयोजित कार्यक्रम में कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय शिक्षक, शिक्षामित्र वेलफेयर एसोसिएशन पदाधिकारियों ने बेसिक शिक्षा मंत्री का घेराव कर मुख्यमंत्री संबोधित 11 सूत्री ज्ञापन सौंपा है, जिसमें मुख्य रुप से कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों में जूनियर एवं प्राइमरी स्कूलों की भांति शीतकालीन अवकाश दिया जाए। वर्तमान समय में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। लगभग सभी कस्तूरबा विद्यालयों में छात्राएं संक्रामक बीमारी, दर्द, उल्टी, दस्त, खांसी, जुकाम व बुखार से पीड़ित हैं। गरीब परिवारों से जुड़ी बालिकाओं के पास पर्याप्त मात्रा में स्वेटर मोजा, स्काफ , साल, जैकेट आदि नहीं है। ऊनी वस्त्र धोने के बाद सूखने में 2 से 3 दिन लग जाते हैं। इस अवधि में ठंड से बचाने के लिए छात्राओं के पास कोई व्यवस्था नहीं है। प्रत्येक विद्यालय में छात्राओं के लिए अलाव जलाने की व्यवस्था नहीं है। अभिभावकों में इस बात को लेकर अत्यधिक रोष है कि केवल संख्या दिखाने के लिए विद्यालय प्रशासन छात्रों को स्कूल में रहने के लिए मजबूर कर रहा है, जबकि प्राइमरी और जूनियर स्कूल शीतकालीन अवकाश के चलते बंद कर दिए गए हैं। कस्तूरबा आवासीय विद्यालय की शिक्षिकाओं को बेसिक शिक्षा मंत्री ने आश्वासन दिया है कि ज्ञापन को मुख्यमंत्री के सामने जरूर रखेंगे साथ ही परियोजना से अवकाश के संबंध में वार्ता की जाएगी। ज्ञापन देने में मुख्य रूप से एसोसिएशन अध्यक्ष सविता शुक्ला, महासचिव सुधा मिश्रा ,शकुंतला यादव, रीता पांडेय, उषा पांडेय, शाहिस्ता खान, पुष्प लता, ममता यादव, रामकुमार, रश्मि, पूजा, घनश्याम लाल, रामकुमार, दीपक यादव आदि कस्तूरबा शिक्षक शिक्षिकाएं शामिल रहे।



👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇