UP में 10वीं तक के स्कूल 14 तक बंद

लखनऊ : कोरोना की तीसरी लहर को लेकर सरकार सतर्क हो गई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर शासन ने मकर संक्रांति (14 जनवरी) तक 10वीं कक्षा तक के सभी स्कूल बंद करने का आदेश जारी किया है। साथ ही रात्रि कफ्यरू में दो घंटे की बढ़ोतरी की गई है। छह जनवरी से रात 10 से सुबह छह बजे तक रात्रि कफ्यरू प्रभावी होगा। जिन जिलों में कोरोना के एक हजार से अधिक सक्रिय केस होंगे, वहां सिनेमाहाल, बैंक्वेट हाल, रेस्टोरेंट व अन्य सार्वजनिक स्थल पर क्षमता के 50 प्रतिशत लोगों को ही अनुमति दी जाएगी। अब शादी समारोह व अन्य आयोजनों में बंद स्थानों पर एक समय में 100 से अधिक लोगों की सहभागिता नहीं हो सकेगी। खुले स्थान पर मैदान की कुल क्षमता के 50 प्रतिशत से अधिक लोगों की उपस्थिति की ही अनुमति दी जाएगी।



मुख्यमंत्री ने मंगलवार रात कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों की रोकथाम के लिए उच्चस्तरीय बैठक की और कड़े निर्देश दिए। कहा कि लोगों को मास्क पहनने, टीका लगवाने व शारीरिक दूरी का पालन करने के लिए जागरूक किया जाए। इसके बाद मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र की ओर से देर रात विस्तृत दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए, जो कि गुरुवार से लागू होंगे। इसमें कहा गया है कि 10वीं कक्षा तक के सभी शासकीय व निजी विद्यालयों में मकर संक्रांति तक अवकाश रहेगा। इस अवधि में किशोरों का टीकाकरण जारी रहेगा। रात्रि कफ्यरू 10 से सुबह छह बजे तक लागू होगा। शासन ने किसी भी जिले में एक हजार से अधिक केस होने की दशा में अतिरिक्त सतर्कता के निर्देश जारी किए हैं। रेस्टोरेंट, होटल के रेस्टोरेंट, फूड ज्वाइंट्स और सिनेमा हाल पचास प्रतिशत क्षमता के साथ संचालित होंगे, जबकि स्वीमिंग पूल, वाटर पार्क और जिम बंद रहेंगे। प्रदेश के सभी शासकीय, अर्धशासकीय, निजी, ट्रस्ट, संस्थाओं, कंपनियों, ऐतिहासिक स्मारक, कार्यालयों, धार्मिक स्थलों, होटल-रेस्त्रं, औद्योगिक इकाइयों में तत्काल प्रभाव से कोविड हेल्प डेस्क क्रियाशील करने और बिना स्क्रीनिंग/सैनिटाइजेशन के किसी को भी परिसर में प्रवेश न दिए जाने का निर्देश भी दिया गया है। उल्लेखनीय है कि 24 दिसंबर को रात्रि कफ्यरू का आदेश जारी करने के साथ ही सरकार ने व्यवस्था बना दी थी कि बंद स्थान पर शादी-समारोह में 200 से अधिक लोग शामिल नहीं होंगे।


’>>कोरोना के बढ़ते मामलों की समीक्षा उच्चस्तरीय बैठक में मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश

’>>अब रात दस से सुबह छह बजे तक रहेगा रात्रि कफ्यरू

’>>गुरुवार से लागू होगी नई व्यवस्था मुख्य सचिव का आदेश जारी

अब हर दिन करें तीन से चार लाख लोगों की कोरोना जांच: योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में प्रतिदिन तीन लाख से चार लाख तक कोविड टेस्ट किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना जांच को तेजी से बढ़ाया जाए। अधिक से अधिक जांच कर कोरोना संक्रमितों की पहचान की जाए। फिर इनके संपर्क में आने वाले लोगों को चिह्न्ति कर कोरोना जांच कराई जाए। योगी ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी जिलों में इंटीग्रेटेड कोविड कमांड सेंटर 24 घंटे अलर्ट रहे। इससे जिले में उपलब्ध एंबुलेंस में से 10 प्रतिशत एंबुलेंस कोविड कमांड सेंटर से जोड़ी जाएं। ताकि कोरोना से संक्रमित मरीजों को अस्पताल लाने में कोई दिक्कत न हो।

राज्य ब्यूरो, लखनऊ : यूपी में मंगलवार को कोरोना के ओमिक्रोन वैरिएंट के 23 नए रोगी मिले। इसमें सबसे ज्यादा आठ रोगी लखनऊ के मिले हैं। वहीं मेरठ में पांच, गाजियाबाद में तीन व मुरादाबाद, कानपुर और आगरा में दो-दो तथा महाराजगंज में एक नया मरीज मिला है। अब तक ओमिक्रोन वैरिएंट के कुल 31 मरीज प्रदेश में मिल चुके हैं।

ओमिक्रोन वैरिएंट के कारण जीनोम सीक्वेंसिंग को बढ़ाने के आदेश दिए गए हैं। गोरखपुर, झांसी व गाजियाबाद के मेडिकल कालेजों और राजधानी में संजय गांधी पीजीआइ में जीनोम सीक्वेंसिंग की व्यवस्था की जा रही है। अभी पांच चिकित्सा संस्थानों में जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए लैब है। संक्रमण को काबू में करने के लिए अस्पतालों में दवाओं की उपलब्धता और बढ़ाई जा रही है। इसी हफ्ते कोरोना के लक्षण वाले लोगों दवा की किट का वितरण किया जाएगा।

सतर्कतापूर्ण कदम

’प्रयागराज माघ मेला में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए 48 घंटे पूर्व की आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट को अनिवार्य कर दिया गया है।

’राशन की दुकान व अन्य दुकानों के बाहर शारीरिक दूरी का पालन कड़ाई से कराया जाए।

’मंडियों, साप्ताहिक बाजारों में भीड़भाड़ रोकने के उपाय होंगे।

’अलग-अलग दुकानों को अलग अलग समय पर खोला जाए।

’मंडियों में ट्रकों की आवाजाही सुबह 4 से आठ बजे के बीच कराई जाए।

’निगरानी समिति और इंटीग्रेटेड कोविड कमांड सेंटर को पूरी तरह सक्रिय किया जाए।

’गांवों में प्रधान के नेतृत्व में और शहरी वार्डो में पार्षदों के नेतृत्व में निगरानी समितियां क्रियाशील रहें।

’घर-घर संपर्क कर बिना टीकाकरण वाले लोगों को चिह्न्ति किया जाए।

’जरूरत के मुताबिक लोगों को मेडिसिन किट उपलब्ध कराई जाए।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇