शिक्षा अधिकारियों पर निलंबित प्रधानाध्यापक ने लगाए आरोप, पढ़े पूरी खबर

 घिरोर क्षेत्र के कंपोजिट विद्यालय नहिलो पर तैनात निलंबित इंचार्ज प्रधानाध्यापक ने शिक्षाधिकारियों पर आरोप लगाए हैं। जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी और बीएसए को पत्र भेजकर मामले की जानकारी दी है।





इंचार्ज प्रधानाध्यापक ने पत्र में कहा है कि निलंबन से 15 दिन पहले उसने खंड शिक्षाधिकारी को विद्यालय के स्टाफ की गतिविधियों की जानकारी दी थी जिसके बदले में उस पर कार्रवाई की गई है। राजेश कुमार ने अधिकारियों को भेजे पत्र में कहा है कि कंपोजिट विद्यालय नाहिली में 385 बच्चे पंजीकृत हैं।



यहां तैनात स्टाफ के लोग मनमानी से विद्यालय आते हैं। स्टाफ के लोगों ने उपस्थिति रजिस्टर कब्जे में ले लिया है

जिसकी शिकायत उन्होंने खंड शिक्षाधिकारी से की थी लेकिन उन्होंने कोई ध्यान नहीं दिया। राजेश कुमार का कहना है कि 16 मार्च को उसने एक मार्च से लेकर 16 मार्च तक स्कूल में शिक्षकों की लापरवाही की रिपोर्ट खंड शिक्षाधिकारी को भेजी थी। शिक्षाधिकारी ने लापरवाह शिक्षकों पर तो कोई कार्रवाई नहीं की उलटे उन्हें 29 मार्च को निलंबित कर दिया। हालांकि उन्हें निलंबन पत्र नहीं मिला है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇