निरीक्षण में अनुपस्थित मिलने पर जहां प्रधानाध्यापक का वेतन व संविदा कर्मियों का मानदेय रोका, वहीं एमडीएम की बदहाल व्यवस्था पर रसोइयों को फटकार लगाई।


निरीक्षण में अनुपस्थित मिलने पर जहां प्रधानाध्यापक का वेतन व संविदा कर्मियों का मानदेय रोका, वहीं एमडीएम की बदहाल व्यवस्था पर रसोइयों को फटकार लगाई।


महराजगंज। जिला समन्वयक एमडीएम शैलेंद्र वर्मा ने बृहस्पतिवार को घुघली व सिसवां ब्लॉक के पांच परिषदीय विद्यालयों का निरीक्षण किया निरीक्षण में अनुपस्थित मिलने पर जहां प्रधानाध्यापक का वेतन व संविदा कर्मियों का मानदेय रोका, वहीं एमडीएम की बदहाल व्यवस्था पर रसोइयों को फटकार लगाई।


डीसी एमडीएम ने बताया कि कंपोजिट विद्यालय परसा गिदही में अनुदेशक मोहम्मद आसिफ 26 अप्रैल से अनुपस्थित मिले, वहीं शिक्षामित्र गुड्डी देवी ने 27 अप्रैल को प्रथम मीटिंग का हस्ताक्षर बनाया था, मगर वह विद्यालय में नहीं मिलीं। विद्यालय में रोटी-दाल की जगह दाल-पीठा बनता पाया गया, जिस पर नाराजगी जताते हुए रसोइयों को फटकार लगाई गई व प्रधानाध्यापक को चतावनी दी गई। सभी का अनुपस्थित तिथि का मानदेय रोकने की संस्तुति की गई। पूर्व माध्यमिक विद्यालय हरखपुरा में अनुदेशक संतोष कुमार शर्मा बिना किसी सूचना के अनुपस्थित मिले, जिस पर उनका एक दिन का मानदेय काटने की संस्तुति की गई, विद्यालय में एमडीएम बनता पाया गया। 



प्राथमिक विद्यालय हरखपुरा में प्रभारी प्रधानाध्यापक आनंद पांडेय बिना किसी सूचना के अनुपस्थित मिले, विद्यालय पर एमडीएम बनता मिला। प्राथमिक विद्यालय हड़तोड़िया व बेलवा टीकर प्रथम में सभी शिक्षक मौजूद मिले, दोनों विद्यालय में दाल-पीठा बनाने की तैयारी चल रही थी, जिस पर रसोइयों को फटकार लगाते हुए रोटी-दाल बनाने का निर्देश दिया गया। दोनों विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों को चेतावनी भी दी गई है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇