यूपी है तैयार: निपुण भारत मिशन को बढ़ावा देने की तैयारी, 21 जुलाई को कार्यक्रम का आयोजन, कार्यक्रम में ये होंगे शामिल


उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से नई शिक्षा नीति, 2020 के तहत मूलभूत साक्षरता और संख्यात्मकता (FLN) मिशन को एक बार फिर से मजबूती के साथ आगे बढ़ाने की शुरुआत की जा रही है। बता दें कि उत्तर प्रदेश ही ऐसा पहला राज्य था जिसने FLN मिशन शुरू किया और केंद्र में निपुण भारत मिशन का अग्रदूत बना था। निपुण भारत मिशन 2026 तक ग्रेड 1 से 3 तक के बच्चों को FLN कौशल प्राप्त करने में सक्षम बनाने पर ध्यान केंद्रित करता है। कोरोना के कारण इस योजना का विस्तार प्रभावित हुआ था। लेकिन इस सुविधा को अब शैक्षणिक वर्ष 2022 से एक बार फिर से मजबूती से आगे ले जाया जाएगा। मूलभूत साक्षरता और संख्यात्मकता (FLN) मिशन नई शिक्षा नीति की नंबर एक प्राथमिकता है। इसी योजना के तहत 21 जुलाई को राजधानी लखनऊ में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है।


कार्यक्रम में ये होंगे शामिल

इस कार्यक्रम में राज्य के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक और शिक्षा मंत्री संदीप सिंह शामिल होंगे। कार्यक्रम में बेसिक शिक्षा विभाग, विशेषज्ञ, और इंडिया पार्टनरशिप फोर अर्ली लर्निंग केयर इंडिया के नेतृत्व में कंसोर्टियम समर्थित यूएसएआईडी और इसके पार्टनर के रूप में सेंट्रल स्क्वायर फाउंडेशन, रूम टू रीड इंडिया ट्रस्ट और केपीएमजी) निपुण भारत मिशन में यूपी के सहयोगी सदस्य – समग्र डेवलपमेंट असोसिएट, लैंग्वेज एंड लर्निंग फाउंडेशन, विक्रमशिला एजुकेशन रिसोर्स सोसाइटी और अन्य एक साथ आ रहे हैं। बता दें कि इस कार्यक्रम का मीडिया पार्टनर अमर उजाला है।

ये प्रख्यात विशेषज्ञ भी रहेंगे

इस कार्यक्रम में बेसिक शिक्षा विभाग के विभिन्न विशेषज्ञ जैसे विजय किरण आनंद, आईएएस (डीजीएसई, बेसिक शिक्षा विभाग), डॉ. सर्वेंद्र विक्रम बहादुर सिंह (निदेशक, एससीईआरटी, बेसिक शिक्षा विभाग), आनंद पांडे (समग्र शिक्षा अभियान, बेसिक शिक्षा विभाग), डॉ. सर्वेस्ट मिश्रा, एसआरजी, बस्ती, सतीश (बीईओ, निन्दुरा, बाराबंकी) शामिल होंगे। इसके अलावा शिक्षा जगत के प्रख्यात नाम जैसे डॉ जयश्री ओझा (शिक्षा प्रबंधन विशेषज्ञ – वरिष्ठ विशेषज्ञ और अंतरराष्ट्रीय सलाहकार), श्री गौरव गोयल (संस्थापक और सीईओ, समग्र डेवलपमेंट असोसिएट), श्री वीरेन भाविषी (उपाध्यक्ष, समग्र डेवलपमेंट असोसिएट), श्री रमेश चंद्र (सहयोगी निदेशक) , लैंग्वेज एंड लर्निंग फाउंडेशन (एलएलएफ), डॉ तन्मय महापात्रा, (टीम लीड, केयर इंडिया) आदि भी शामिल होंगे।

क्या है कार्यक्रम का उद्देश्य?

इस कार्यक्रम का उद्देश्य निपुण भारत मिशन के तहत उत्तर प्रदेश की अकादमिक और प्रशासनिक दोनों ही तैयारियों को प्रदर्शित करने में मदद करना है। कार्यक्रम के माध्यम से राज्य में निपुण यूपी के तहत किए जा रहे कार्यों के बारे में जागरूकता पैदा करना और उपलब्धियों को बताया जाएगा। इसके साथ ही जमीनी स्तर पर इसके प्रभाव को जानना भी इस कार्यक्रम का मकसद है। कार्यक्रम में चर्चा का केंद्र शिक्षण और सीखने के अभ्यास, शिक्षकों के प्रोफेशनल विकास, यूपी में इसके समर्थन और FLN मिशन की राज्य-व्यापी निगरानी होगा।

.

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇