शिक्षा विभाग में भी गड़बड़ी, माध्यमिक व बेसिक शिक्षा विभाग के तबादलों में सामने आ रहीं कई गड़बड़ियां


लखनऊ। पीडब्ल्यूडी और स्वास्थ्य विभाग के बाद अब बेसिक व माध्यमिक शिक्षा विभाग में भी लिपिक संवर्ग के तबादलों में बड़े पैमाने पर गड़बड़ियां सामने आ रही हैं। कई कर्मचारी ऐसे हैं, जिनका जहां तबादला किया गया है, वहां पद ही नहीं रिक्त हैं। ये कर्मचारी अब अधिकारियों के चक्कर लगाने को हैं। मजबूर इन कर्मचारियों का जहां से तबादला हुआ है, वहां किसी दूसरे ने पदभार ग्रहण कर लिया है। ऐसे में इन कर्मचारियों की हाजिरी भी नहीं लग रही है। ऐसे 70 से अधिक कर्मचारी प्रभावित बताए जा रहे हैं। तबादलों में नियम की अनदेखी के भी आरोप हैं। गड़बड़ी की यह स्थिति करीब 22 दिन से बनी है। कर्मचारियों को डर है कि कहीं उनका वेतन न फंस जाए।


निलंबित कर्मियों के भी तबादले : यूपी एजुकेशनल मिनिस्टीरियल ऑफीसर्स एसोसिएशन के प्रांतीय महामंत्री राजेश चंद्र श्रीवास्तव बताते हैं कि बलिया के दो व महाराजगंज के एक ऐसे कर्मचारी का तबादला कर दिया गया, जो निलंबित चल रहे हैं। झांसी में एक ही पद पर दो और मऊ में एक कर्मचारी का उसी कार्यालय में तबादला कर दिया गया। उन्होंने 238 कर्मचारियों के तबादलों में अनियमितता की शिकायत अपर बेसिक शिक्षा निदेशक प्रयागराज,बेसिक शिक्षा निदेशक व महानिदेशक स्कूल शिक्षा से की है।

नियम की अनदेखी कर हुए स्थानांतरण : एसोसिएशन के महामंत्री ने बताया कि आदेश था कि किसी कार्यालय में पांच वर्ष से तैनात कर्मचारी का जिले में ही दूसरे कार्यालय में तबादला किया जाए। यदि जिले में जगह न हो, तब मंडल के दूसरे जिले में तबादला किया जाए।

पद रिक्त न होने से कर्मचारी परेशान

इसके बावजूद लोकेश कुमार गुप्ता, सचिन श्रीवास्तव, हर्षित श्रीवास्तव, ओम प्रकाश यादव समेत कई कर्मचारियों का लखनऊ से रायबरेली तबादला कर दिया गया है। उनका दावा है कि जिन पदों पर इनका तबादला हुआ है, वे पद लखनऊ के विभिन्न कार्यालयों में खाली हैं.



लखनऊ में राजकीय जुबिली इंटर कॉलेज के वरिष्ठ सहायक देवेंद्र कुमार सिंह का तबादला डीआईओएस लखनऊ कार्यालय में हुआ है, लेकिन वहां पद खाली न होने की बात कहकर उन्हें पदभार ग्रहण नहीं कराया जा रहा। वहीं, जुबिली कॉलेज में उनके स्थान पर दूसरा व्यक्ति ने पदभार ग्रहण कर लिया है। इससे देवेंद्र की उपस्थिति भी कहीं नहीं दर्ज हो रही है।

## लखनऊ में ही जीजीआईसी सिंगारनगर में वरिष्ठ सहायक प्रवीण दुबे का तबादला बीएसए कार्यालय लखनऊ में हुआ है, लेकिन उन्हें भी पद रिक्त नहीं होने से कार्यभार नहीं ग्रहण कराया गया है।

| हरदोई में डीआईओएस कार्यालय में वरिष्ठ लिपिक आदित्य दीक्षित का तबादला जीजीआईसी पिहानी हरदोई हुआ है, लेकिन वहां भी पद खाली नहीं होने से उन्हें पदभार नहीं ग्रहण कराया गया है।

डीआईओएस रायबरेली में प्रधान सहायक रहे रामशरण चौधरी का तबादला हरदोई हुआ है, लेकिन पद रिक्त न होने से वे भी भटक रहे हैं।



माध्यमिक व बेसिक शिक्षा विभाग के तबादलों में सामने आ रहीं कई गड़बड़ियां
कई जगह स्थानांतरित कर्मचारियों ने अपना पद नहीं छोड़ा है और बाहर से वहां कर्मचारी पहुंच गया है, इसलिए दिक्कत हो रही है। सभी मंडलों से सूचना मांगी गई है कि उनके यहां कितने पद खाली हैं, कितने स्थानांतरित कर्मचारियों ने पदभार ग्रहण किया है और कितने रिलीव हुए हैं। यदि कहीं कोई गड़बड़ी है तो उसे दुरुस्त किया जाएगा। कर्मचारियों के साथ गलत नहीं होगा।
अनिल भूषण चतुर्वेदी, अपर
शिक्षा निदेशक (बेसिक)

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇