'निपुण' से पढ़ने और लिखने में दक्ष होंगे परिषदीय स्कूलों के बच्चे


कंदवा परिषदीय स्कूलों के बच्चों की शैक्षिक क्षमता मजबूत करने के लिए सरकार ने निपुण (नेशनल इनिशिएटिव फार प्रोफिशिएंसी इन रीडिंग विद अंडरस्टैंडिंग एंड न्यूमेरेसी) मिशन योजना जारी की है। इस योजना के तहत कक्षा तीन में पढ़ने वाले बच्चों में पढ़ने लिखने और सीखने की क्षमता को मजबूत की जाएगी।




केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने पांच जुलाई 2021 को योजना आरंभ की हैं। इसके तहत कक्षा तीन पढ़ रहे बच्चों को भाषा और गणित का बेहतर ज्ञान दिया जाएगा। बच्चों को उनकी रुचि के अनुसार उन्हें प्रोत्साहित किया जाएगा।





पढ़ाई के दौरान लिंगभेद से मुक्त पुस्तकों, चित्र, पोस्टर और खिलौने आदि को माध्यम बनाया जाएगा। उनके पाठ्यक्रमों में ज्यादातर कविताएं और कहानियां शामिल होंगी। बीच-बीच में बच्चों के सीखने की क्षमता का आंकलन होगा और फिर समस्याओं का पत्ता लगाकर उसे दूर भी किया जाएगा। 


 
निपुण भारत मिशन जुलाई वर्ष 2022 से 2026 तक के लिए लागू है। इससे बच्चों की बुनियादी शिक्षा और मजबूत इसके लिए शिक्षकों को निर्देशित कर दिया गया है। रामआसरे राम, खंड शिक्षा अधिकारी, बरहनी

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇