परिषदीय स्कूलों में बच्चे करेंगे सितारों से बातें, बनेगी डिस्कवरी लैब

जौनपुर। परिषदीय विद्यालय के छात्रों में विज्ञान के प्रति अभिरुचि पैदा करने के लिए डिस्कवरी लैब और विज्ञान प्रयोगशाला बनेगी। इसके लिए जिले के 218 विद्यालयों का चयन किया गया है। वैज्ञानिक उपकरणों, मॉडलों व चित्रों के जरिए लैब को सजाया जाएगा।


लैब में बच्चों को प्रोजेक्टर के माध्यम से सौरमंडल की जानकारी दी जाएगी। प्राथमिक विद्यालयों में इस तरह लैब में टेलीस्कोप, ग्लोब, तारामंडल की सरंचना और ग्लाइडर आदि के जरिये तारों और ग्रह नक्षत्रों की जानकारी दी जाएगी। साथ ही विज्ञान के प्रति अधिक रुचि पैदा करने के लिए, विज्ञान के रोचक तथ्य दीवार पर लिखे जाएंगे। लैब में बैठकर बच्चे अंतरिक्ष की सैर कर सकेंगे।

बीएसए डॉ. गोरखनाथ पटेल ने बताया कि डिस्कवरी लैब और विज्ञान प्रयोगशाला बनाने का काम शुरू हो गया है। इसके तहत जिले में 11 परिषदीय विद्यालयों में डिस्कवरी लैब और विज्ञान प्रयोगशाला की स्थापना कर दी गई है। इसके तहत जिले के हर न्याय पंचायत में एक विद्यालयों का चयन किया गया है।
इस योजना का उद्देश्य उच्च प्राथमिक स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र छात्राओं में गणित, विज्ञान और प्रौद्योगिकी की समझ को विकसित करना है। इस अभियान के तहत उनको विज्ञान की जानकारी दी जाएगी। दीवार पर स्लोगन लिखे जाएंगे। खगोलीय दूरदर्शी, टेलीस्कोप, तारामंडल के सुंदर और आकर्षक चित्र बनाकर विज्ञान में निपुण किया जाएगा।
इन विद्यालयों में स्थापित हुई प्रयोगशाला
जौनपुर। छात्रों में विज्ञान के प्रति अभिरुचि पैदा करने के लिए जिले के 218 विद्यालयों में विज्ञान लैब की स्थापना की जानी है। जिसमे से 11 विद्यालयों में प्रयोगशाला बनकर तैयार हो चुकी है। बीएसए डा. गोरखनाथ पटेल ने बताया कि रामपुर ब्लाक के सुरेरी, खुटहन के पिलकिछा, सिकरारा के ताहिरपुर, शाहगंज के सबरहद और जपटापुर समेत 11 स्कूलों में लैब बनकर तैयार हो गई है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇