शिक्षक बनीं कैबिनेट मंत्री: बच्चों से पूछा सवाल और जवाब देने पर इस तरह बढ़ाया उत्साह

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी अमेठी के दो दिवसीय दौरे पर हैं। दौरे के दूसरे दिन उन्होंने कई कार्यक्रमों में भाग लिया और अमेठी की जनता की शिकायतें सुनीं। मंगलवार को उन्होंने बहादुरपुर ब्लॉक की ग्राम पंचायत ओदारी में चौपाल लगाकर लोगों की समस्याएं सुनीं। जनसामान्य की समस्याओं को सुनने के बाद मौके पर ही संबंधित अधिकारियों को प्राप्त शिकायतों के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण का निर्देश दिया।


जयपुरिया स्कूल का उद्घाटन करने जा रहीं स्मृति मनीपुर से मुड़ते ही संचालित प्रकाश सरस्वती शिशु मंदिर के सामने रुक गईं। यहां स्मृति बच्चों के एक क्लास में पहुंचीं और उन्हें पढ़ाने लग गईं। शिक्षक व बच्चे भी केंद्रीय मंत्री को अपने बीच में पाकर खुश नजर आए।

स्मृति ईरानी ने बच्चों को कुछ हिंदी वर्णमाला के कुछ अक्षरों के मतलब बताए और फिर बच्चों से भी सवाल किए। बच्चे उनसे पढ़कर उत्साहित नजर आए।
 
हाईटेक बनाने के लिए 1204 पंचायतों में वाई-फाई सुविधा
इसी दौरान उन्होंने बच्चों से पूछा कि कोई बच्चा बताए म से क्या होता है। एक बच्चे ने कहा मां। यह सुनते ही स्मृति खुश हो गईं। स्मृति उसके पास पहुंचीं और हाथ मिलाया।

कैबिनेट मंत्री ने इस तरह बच्चे को दुलारा और उसका उत्साह बढ़ाया।

दो दिवसीय दौरे के अंतिम दिन केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने दुर्गन भवानी धाम स्थित सेठ आनंदराम जयपुरिया स्कूल का उद्घाटन किया। उद्घाटन के बाद स्मृति ने स्कूल परिसर में ही छात्र-छात्राओं को निशुल्क टैबलेट व स्वामित्व योजना के चयनित लोगों को घरौनी वितरित करने के साथ ही स्वनिधि योजना के लाभार्थियों से बात की। इस मौके पर स्कूल के छात्र-छात्राओं ने केंद्रीय मंत्री के स्वागत में सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए।



दौरे के दूसरे दिन केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी सुबह करीब 11:30 बजे दुर्गन भवानी धाम स्थित नव निर्मित सेठ आनंदराम जयपुरिया स्कूल पहुंचीं। यहां स्मृति ने स्कूल भवन का फीता काटकर उद्घाटन किया। भवन मेें प्रवेश करते ही स्मृति ने वैदिक मंत्रोच्चार के बीच मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण व पुष्पार्चन किया। (स्मृति ईरानी ने छात्र-छात्राओं को टैबलेट बांटे।)

 इसके बाद स्मृति विद्यालय भवन के द्वितीय तल पर बने हॉल में पहुंचीं और स्वामित्व योजना के 11 लाभार्थियों को अपने हाथ से घरौनी वितरित की और यहीं पर मौजूद प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के लाभार्थियों से बात की। भवन से बाहर निकल स्मृति परिसर में ही आयोजित सभा स्थल पर पहुंचीं। यहां स्मृति ने पहले संजय गांधी पॉलीटेक्निक जगदीशपुर के सात व आईटीआई गौरीगंज चार के विद्यार्थियों को टैबलेट वितरित किया।

कार्यक्रम के अंत में स्मृति ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि यह हमारा सौभाग्य है कि शिक्षा के क्षेत्र में अमेठी प्रगति कर रहा है। साथ ही सरकार हर क्षेत्र में काम कर रही है। इस मौके पर डीएम राकेश कुमार मिश्र, एसपी दिनेश सिंह, सीडीओ डॉ. अंकुर लाठर, डीआईओएस उदयप्रकाश मिश्र, बीएसए डॉ. अरविंद कुमार पाठक, एएओ आशुतोष मिश्र  समेत अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी, विद्यालय प्रबंध समिति के अध्यापक-अध्यापिकाएं और बड़ी संख्या में लाभार्थी और स्कूल के बच्चे मौजूद रहे।

नीतू को इसरो ले जाएंगी स्मृति
टैबलेट वितरण के दौरान चयनित लाभार्थियों में शामिल संजय गांधी पॉलीटेक्निक जगदीशपुर की छात्रा नीतू ने सांसद से इसरो जाने की इच्छा जताई। उसकी बात पर पहले तो स्मृति मुस्करा कर रह गईं। हालांकि बाद में स्मृति ने मंच से लोगों को संबोधित करने के दौरान नीतू की इच्छा का खुलासा किया। कहा वे एक माह के भीतर नीतू को न सिर्फ इसरो भेजकर घुमाएंगी बल्कि उसे वहां की उपलब्धियों व कार्यक्रमों से अवगत कराएंगी।


UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇