कस्तूरबा स्कूल में गैस रिसाव से लगी आग


 हरचंदपुर ( रायबरेली)। कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय बाला में शुक्रवार को बड़ा हादसा होते-होते बच गया। विद्यालय में छात्राओं के लिए भोजन बनाया जा रहा था जैसे ही गैस चूल्हा जलाया गया, पाइप निकल गया और गैस, रिसाव के कारण आग लग गई। रसोई घर में आग की लपटें देखकर विद्यालय में भगदड़ मच गई। पांच रसोइयों में चार नी किसी तरह बाहर निकल आई, लेकिन एक रसोइये के हाथ-पैर झुलस गए। | उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहाँ से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। गनीमत रही कि समय से सभी छात्राएं भागकर बाहर आ गई।

कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय में 184 छात्राएं अध्ययनरत है। यहां पर वार्डन समेत दो पूर्णकालिक शिक्षिकाएं, पांच रसोइये कार्यरत हैं। सुबह करीब 8 बजे पांचों रसोइये भोजन बना रही थीं। गैस चूल्हा जलाते ही सिलिंडर वाला पाइप निकल गया और गैस रिसाव होने से आग लग गई। रसोई में आग की लपटें बढ़ती जा रही थीं। इस पर चार रसोइये बाहर निकल आई एक रसोइया मेनका यादव चल्हे के पास ही बैठी थी वह भाग नहीं पाई, जिससे आग की लपटों के कारण मेनका के हाथ-पैर झुलस गए। किसी तरह यह रसोई घर से बाहर आई झुलसी रसोइया को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।




 विद्यालय में अफरातफरी मच गई। छात्राएं रसोई घर में आग की लपटें देखकरभागकर बाहर पहुंच गई, जो बचीं उन्हें सकुशल बाहर निकाला गया। करीब एक घंटे तक अफरातफरी का माहौल रहा। वार्डन शिल्पी सिंह ने फायर ब्रिगेड और उच्चाधिकारियों की सूचना दी। हरचंदपुर के बीईओ पहुंचे और विद्यालय में रखे अग्निशमन यंत्रों की मदद से आग बुझाई। फायर ब्रिगेड की टीम पहुंची तो आग बुझ चुकी थी। दमकल कर्मियों ने रसोई घर के अंदर रखे गैस सिलिंडर समेत अन्य सामान बाहर निकाला।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇