बीएसए दफ्तर में तैनात रहें 2 लेखाधिकारियों से 9 करोड ही होगी वसूली, शिक्षकों की सैलरी से जुड़ा मामला

गोरखपुर

फर्जी अनुमोदन पर भुगतान मामले में बीएसए बेसिक शिक्षा अधिकारी दफ्तर में तैनात रहे दो लेखाधिकारियों से नौ करोड़ रुपये की वसूली होगी। यह धनराशि दोनों लेखाधिकारियों ने दो एडेड स्कूलों में तैनात शिक्षकों के वेतन और एरियर मद में भुगतान किया है।जिले के वित्तीय सहायता प्राप्त कृषक लघु माध्यमिक विद्यालय, मदरसन गौरीबाजार और सहदेव बालिका पूर्व माध्यमिक विद्यालय में फर्जी अनुमोदन के आधार पर वेतन और एरियर भुगतान मामले में शासन ने बड़ी कार्यवाही की है। 





सूत्रों की मानें तो पिछले दिनों शासन की जांच के बाद मामले में दोषी पाए गए दो लेखाधिकारियों से करीब नौ करोड़ रुपये की रिकवरी का फैसला किया है। इस मामले में कोषागार निदेशालय की टीम ने विगत दिनों जेल में बंद पूर्व वित्त एवं लेखाधिकारी जगदीश लाल श्रीवास्तव को 6.70 करोड़ रुपये की रिकवरी का नोटिस रिसीव कराया। वहीं, शासन की एक टीम ने कुशीनगर पहुंचकर मामले में संलिप्त रहे लेखाधिकारी रईस अहमद को 2.27 करोड़ रुपये का दिया। रईस पर निलंबन की कार्रवाई भी की जा चुकी है।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇