मोबाइल लोकेशन के आधार पर स्कूल से गायब पकड़े गए शिक्षकों पर हुई बड़ी कार्यवाही

मऊ। बेसिक शिक्षा से संबद्ध परिषदीय विद्यालयों में तैनात लापरवाह शिक्षकों पर गाज गिरनी शुरू हो गई है। मोबाइल लोकेशन के आधार पर विद्यालय से गायब मिले चार ब्लाकों के सात शिक्षकों का एक दिन का वेतन रोका है। मुहम्मदाबादगोहना ब्लाक क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय वलीदपुर के प्रधानाध्यापक सहित समस्त स्टाफ से स्पष्टीकरण मांगा है।





परिषदीय विद्यालयों में पठन पाठन की व्यवस्था चुस्त दुरुस्त करने के लिए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने कवायद तेज कर दी है। कई विद्यालयों में तैनात शिक्षकों के लेटलतीफी से विद्यालय आने का क्रम जारी है। शिक्षकों के कार्यप्रणाली पर नजर रखने के लिए कार्यालय में तैनात स्टाफ द्वारा प्रतिदिन 10 विद्यालयों के शिक्षकों सहित समस्त स्टाफ की लोकेशन ली जाती है। बीएसए कार्यालय की

मोबाइल लोकेशन रिपोर्ट में गत आठ दिसंबर को बड़रांव ब्लाक क्षेत्र के उच्च प्राथमिक विद्यालय उसुरी में अनुदेशक सोनू कुमार, 13 दिसंबर को घोसी ब्लाक क्षेत्र के उप्रा विद्यालय बरुहा की सहायक अध्यापक मंजू सिंह, 16 दिसंबर को रानीपुर ब्लाक क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय सेमरी के शिक्षामित्र प्रेम कुमार अनुपस्थित मिले। 16 दिसंबर को बड़रांव ब्लाक क्षेत्र के कंपोजिट विद्यालय पीवाताल की सहायक अध्यापक प्रमिला सिंह, 10 दिसंबर को बड़रांव ब्लाक क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय सरबसपुर की सहायक अध्यापक उर्मिला सिंह, 20 दिसंबर को बड़रांव ब्लाक क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय भटौली के सहायक अध्यापक सखीचंद अनुपस्थित मिले।



इसी तरह 22 दिसंबर को मुहम्मदाबादगोहना ब्लाक क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय वलीदपुर के प्रधानाध्यापक सहित समस्त स्टाफ ने फोन रिसीव नहीं किया। लापरवाह सात शिक्षकों का एक दिन का वेतन रोकने का निर्देश दिया गया है बीएसए ने लापरवाह शिक्षकों से एक हफ्ते के अंदर स्पष्टीकरण मांगा है।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇