69000 भर्ती के 21 संदिग्ध शिक्षकों में से एक भी नहीं आए,अभिलेखों के सत्यापन में शिक्षकों के संदिग्ध मिलने का मामला

कन्नौज जिले में 69 हजार शिक्षक भर्ती प्रक्रिया के दौरान प्रथम और द्वितीय चरण के शैक्षिक अभिलेखों के सत्यापन में 21 शिक्षक संदिग्ध मिले हैं। इसमें से एक भी शिक्षक पहली नोटिस का जवाब देने बीएसए कार्यालय नहीं पहुंचे। इनको सोमवार को दूसरी नोटिस जारी की जाएगी। दूसरी नोटिस का जवाब देने नहीं पहुंचते हैं तो तीसरी नोटिस जारी कर बर्खास्तगी की कार्रवाई की जाएगी

 


जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संगीता सिंह ने शनिवार को बताया कि 21 संदिग्ध शिक्षकों को पहली नोटिस जारी की गई थी। वह चार दिसंबर को अपना पक्ष रखें। इनमें से कोई भी शिक्षक बीएसए कार्यालय स्पष्टीकरण देने नहीं पहुंचा। इन शिक्षकों को दूसरी नोटिस सोमवार को जारी की जाएगी। इनको पक्ष रखने के लिए तीन नोटिस जारी की जाएगी उसके बावजूद नहीं आते हैं, तो जनपदीय चयन समिति और जिलाधिकारी की संस्तुति पर शिक्षकों को बर्खास्तगी की रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी। वेतन की वसूली के लिए रिकवरी नोटिस भी जारी होगी। 



उल्लेखनीय है कि बीएसए कार्यालय में 69 हजार शिक्षक भर्ती के शिक्षकों के शैक्षिक अभिलेखों का सत्यापन हो रहा है। इनके शैक्षिक अभिलेख का एक सेट कार्यालय में भी जमा होता है। शैक्षिक अभिलेखों का सत्यापन ऑनलाइन और ऑफलाइन कराया गया। सभी अभिलेखों का संबंधित बोर्ड और यूनिवर्सिटी से भौतिक सत्यापन कराया गया, जिसमें 21 नवनियुक्त शिक्षकों के शैक्षिक अभिलेख संदिग्ध मिले हैं। जनपद में प्रथम चरण में 300, द्वितीय चरण में 1082 और तृतीय चरण में 106 शिक्षकों की नियुक्ति हुई है। प्रथम और द्वितीय चरण के शिक्षकों के शैक्षिक अभिलेखों का सत्यापन पूरा हो चुका है।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇