वाह री बेसिक की व्यवस्था, शिक्षकों को पूड़ी, बच्चों को उबला चावल

फतेहपुर : जिलास्तरीय बाल क्रीड़ा रैली प्रतियोगिता में 2.60 लाख सहयोग राशि जमा करने के बाद बच्चों उबला नमकीन चावल ही पेट भरने के लिए नसीब हुआ। जबकि इन बच्चों के साथ ही शिक्षकों ने बैठकर पूड़ी-सब्जी और समोसे खाए। इससे व्यवस्था पर सवाल उठे कि क्या यह बच्चों के पेट के साथ कटौती है।




जिले में 2130 परिषदीय विद्यालय हैं। इनमें 1384 प्राथमिक 266 उच्च प्राथमिक और 480 कंपोजिट विद्यालय हैं। ब्लाक व जिलास्तरीय क्रीड़ा रैली के लिए प्राथमिक और उच्च प्राथमिक प्रति विद्यालय से 500 रुपये और प्रत्येक कंपोजिट विद्यालय से 700 रुपये बेसिक शिक्षा विभाग ने सहयोग धनराशि ली। इस तरह सभी स्कूलों को मिलाकर करीब साढ़े 10 लाख रुपये वसूले गए इस धनराशि से प्रति ब्लाक 20 हजार रुपये जिलास्तरीय बाल क्रीड़ा रैली के लिए जमा कराए गए। इस तरह से जिला रैली के लिए दो लाख 60 हजार रुपये की सहयोग राशि जमा हुई।

स्पोर्ट्स स्टेडियम में तीन दिसंबर से शुरू हुई जिलास्तरीय बाल क्रीड़ा रैली के पहले दिन शाम को बच्चों को पूड़ी सब्जी परोसी गई। शनिवारसुबह केला और पारले जी बिस्कुट का पैकेट दिया गया। दोपहर में ऐरायां ब्लाक के बच्चों को रैली स्थल पर ही नमकीन पीले रंग का उबला चावल परोसा गया। खेल मैदान पर शिक्षक पूड़ी-सब्जी और समोसा खाते रहे। असोथर, बहुआ, खजुहा, हसवा ब्लाकों के बच्चों को दोपहर में भूखे पेट रहना पड़ा।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇