स्कूल के बच्चों से अध्यापकों द्वारा ईंट की धुलाई का वीडियो वायरल, नहीं दिया स्पष्टीकरण, शिक्षा विभाग में हड़कंप

अंबेडकर नगर: पाँच दिन Day's बीत जाने के बाद भी अभी तक अध्यापकों teachers ने स्पष्टीकरण नही दिया है और न ही उनके खिलाफ कोई कार्यवाही हो सकी है।मामला शिक्षा क्षेत्र बसखारी अंतर्गत छागुरपुर मिश्रौलिया इंग्लिश मीडियम स्कूल (English midium school) का है। जहां बीते दिनों एक वीडियो सोशल मीडिया Social media पर बड़ी तेजी से वायरल viral हुई थी। जिसमें ननिहालो के भविष्य के साथ खिलवाड़ करते हुए अध्यापकों (Teachers) द्वारा दीवाल की बाउंड्री वाल निर्माण में ईट की ढुलाई कराई जा रही थी।जिसका वीडियो Video किसी व्यक्ति ने बना लिया था और 31 मार्च March को सोशल मीडिया Social media पर वायरल Viral कर दिया था। वीडियो वायरल Video viral होने से शिक्षा विभाग shiksha vibhag की पोल खोल कर रख दिया जिससे शिक्षा विभाग Basic shiksha vibhag में हड़कंप मच गया।





वही स्कूल के शिक्षक सोशल मीडिया Social media पर वीडियो वायरल (video viral) होने के बाद अपना बचाव करते हुए परिजन व बच्चों को स्कूल school में इकट्ठा कर उनसे सफाई दिलवा रहे है कि स्कूल school में किसी बच्चे से काम नही करवाया गया है। जबकि सोशल मीडिया Social media पर वायरल वीडियो Video स्वयं अध्यापकों Teacher's को कटघरे में खड़ा कर रहा है।आखिर अगर बच्चों से स्कूल school में काम नहीं करवाया गया तो वह वीडियो Video जिसमें बच्चे ईट ढुलाई करते दिखाई पड़ रहे हैं। वह किस स्कूल का वीडियो Video है। क्या स्कूल के अध्यापक द्वारा बेसिक शिक्षा अधिकारी BSA को गुमराह करने व कार्रवाई से बचने के लिए बच्चों व परिजनों से झूठा बयान दिलवाया जा रहा है फिर हाल इस मामले में बेसिक शिक्षा अधिकारी BSA द्वारा स्पष्टीकरण मांगा गया है।



लेकिन बच्चों से ढुलाई जा रही ईट के मामले में क्या कुछ कार्यवाही बेसिक शिक्षा अधिकारी BSA उन अध्यापकों Teacher's के ऊपर करते हैं जो इन नौनिहालों से ईट की ढुलाई करवा रहे हैं। बच्चों से स्कूल में ऐसे कार्य करवाना बेहद की शर्मनाक हैं ऐसे शिक्षकों के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇