स्कूलों में बच्चों को नहीं मिला मिड डे मील, एनजीओ तलब


बिजनौर

जिला मुख्यालय पर नगर क्षेत्र के प्राथमिक और जूनियर हाईस्कूलों में मंगलवार को बच्चों को मिड डे मील नहीं मिला। बच्चे पूरे दिन मिड-डे-मील का इंतजार करते रहे। बाद में बच्चे भूखे अपने घरों को लौटने को मजबूर हुए। मामला संज्ञान में आने पर बीएसए ने एनजीओ को तलब कर लिया है।


नगर क्षेत्र बिजनौर में 14 प्राथमिक और जूनियर हाईस्कूल है। इन स्कूलों में एनजीओ द्वारा बच्चों को मिड डे मील दिया जाता है। पिछले दिनों में बच्चों को एनजीओ द्वारा कभी फल तो कभी दूध नहीं दिया जा रहा है। खुद बीएसए जयकरन यादव ने नगर क्षेत्र का निरीक्षण कराया था तो सच्चाई उनके सामने आई थी। मंगलवार को नगर क्षेत्र के स्कूलों में बच्चों को मिड डे मील नहीं मिला। बच्चे पूरे दिन स्कूल में भूखे रहे। बच्चों ने अध्यापकों से खाना मांगा लेकिन अध्यापक भी मजबूर दिखे। पिछले सोमवार को नगर क्षेत्र के स्कूलों के काफी बच्चों को स्कूल चलो अभियान कार्यक्रम में बुलाए गए थे और जो बच्चे विद्यालय में रह गए उन्हें फल नहीं मिले। बतादे कि सोमवार और महीने के आखिरी गुरूवार को बच्चों को फल तथा बुधवार को दूध दिया जाता है। स्कूलों में बच्चों को मिड डे मील न दिया जाना बड़ी लापरवाही है। इसे लेकर बीएसए ने एनजीओ को तलब कर लिया है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇