शिक्षक ने छात्रों को पीटा, निलंबित , जानें पूरा मामला


वरुणा बाजार। विद्यालय न जाने पर बीईओ ने शिक्षक को अनुपस्थित कर दिया। जिससे नाराज शिक्षक ने पहले तो रजिस्टर में छेड़छाड़ की फिर दो दिन से छात्र-छात्राओं की पिटाई करने लगा। साथी अध्यापकों ने विरोध किया तो उनसे भी भिड़ गया। उधर पिटाई की शिकायत करने आये अभिभावकों से भी अभद्रता की। सूचना पर पहुंची कोतवाली पुलिस शिक्षक को कोतवाली उठा लाई। बीईओ ने शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई की संस्तुति की, जिसपर बीएसए ने उसे निलंबित कर दिया है।


फूलपुर कोतवाली अंतर्गत पिड़ौना गांव स्थित परिषदीय संविलियन विद्यालय के सहायक अध्यापक राज बहादुर मौर्या मंगलवार को बिना बताये विद्यालय से अनुपस्थित थे। इसी दौरान औचक निरीक्षण पर पहुंचे बीईओ प्रतापपुर ने उन्हें अनुपस्थित कर दिया। अगले दिन पहुंचे शिक्षक ने जब उपस्थिति पंजिका देखी तो उनका पारा गरम हो गया। उन्होने जबरन पंजिका में छेड़छाड़ की और प्रधानाध्यापक से भिड़ गए। जिस पर अन्य शिक्षकों ने मामला शांत कराया। तब से आक्रोशित शिक्षक ने गुरुवार को विद्यालय के कक्षा तीन के छात्र कपिल की जमकर पिटाई कर दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने समझाकर मामले को शांत कराया।

तमतमाए शिक्षक उसी दिन बीआरसी प्रतापपुर पहुंच गए और निकट के उच्च प्राथमिक विद्यालय में जमकर हंगामा काटा। शुक्रवार को वह जब पुन: विद्यालय गया तो छात्र कपिल, प्रियांशु बिन्द व अन्य तीन छात्राओं की बेरहमी से पिटाई कर दी। रोकने पर प्रधानाध्यापक समेत अन्य शिक्षकों से अभद्रता करने लगा। जानकारी हुई तो ग्राम प्रधान, अभिभावक व सैकड़ों ग्रामीण भी पहुंच गए। इसपर वह उनसे भी भिड़ गए।अभिभावकों ने पुलिस को सूचना दी तो शिक्षक को कोतवाली ले आया गया। ग्रामीणों ने बताया कि कुछ माह पूर्व वह ऐसे ही छात्रों की पिटाई कर रहा था विरोध करने पर एक भाजपा नेता का सिर फोड़ दिया था। उधर पिड़ौना व प्रतापपुर विद्यालय के शिक्षकों की शिकायत पर बीईओ प्रतापपुर ने शिक्षक के खिलाफ बीएसए को पत्र लिखा।


UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇