लम्बे इंतजार के बाद बेसिक शिक्षकों को ऑनलाइन स्कूल होंगे आवंटित


गोंडा। जिले में 18 जुलाई को कार्यभार ग्रहण कर चुके 31 शिक्षकों को स्कूल का आवंटन कर दिया गया है। दो महीने तक इन शिक्षकों को स्कूल नहीं मिल सका था। शासन की ओर से स्कूल आवंटन की प्रक्रिया के लिए निर्देश न मिलने से अधिकारी भी बैठे थे। लंबे इंतजार के बाद 15- 16 सितंबर को स्कूल आवंटन की प्रक्रिया पूरी होगी। विद्यालयों का आवंटन ऑनलाइन होगा।



परिषदीय प्राथमिक स्कूलों के 31 सहायक अध्यापकों की लगभग दो माह के बाद तैनाती होगी। बीते दिनों हाईकोर्ट के आदेश पर मेरिटोरियस रिजर्व कैटेगरी (एमआरसी) के शिक्षकों का मनचाहे जिलों में तबादला हुआ था। इन शिक्षकों ने 18 व 19 जुलाई को बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में कार्यभार ग्रहण कर लिया, लेकिन स्कूल आवंटन नहीं हो सका है। स्कूलों में बिना ड्यूटी के ही दो महीने वेतन का अधिकार तो हो गया है, लेकिन स्कूल नहीं मिल सका। शिक्षक पिछले डेढ़ महीने से बीएसए कार्यालय में हाजिरी लगा रहे हैं।



बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव प्रताप सिंह बघेल ने सात सितंबर को निर्देश दिया है कि इन शिक्षकों का ऑनलाइन विद्यालय आवंटन 15 व 16 सितंबर को होगा। उसके बाद शिक्षकों के वेतन भुगतान और जिले में कार्यभार ग्रहण करने के बाद देय एरियर भुगतान किया जाएगा। बीएसए अखिलेश प्रताप सिंह का कहना है कि राज्य परियोजना कार्यालय द्वारा उपलब्ध कराए गए ब्यौरे पर एनआईसी के जरिए विद्यालय आवंटन होगा। इसके बाद संबंधित शिक्षकों के वेतन भुगतान व एरियर भुगतान की नियमानुसार कार्रवाई होगी। इस प्रक्रिया के बाद जिले स्तर पर प्रस्तावित शिक्षकों के तबादले की प्रक्रिया शुरू होने की उम्मीद जताई जा रही है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇