आंगनबाड़ी कर्मचारी को 18 हजार व सहायिका को नौ हजार मानदेय दिया जाए


ललितपुर। आंगनबाड़ी कर्मचारी व सहायिका एसोसिएशन उत्तर प्रदेश ने प्रांतीय नेतृत्व के आह्वान पर विभिन्न मांगों को लेकर विकास भवन परिसर में धरना प्रदर्शन किया। जिसमें सम्मानजनक मानदेय दिए जाने की मांग की।


जिलाध्यक्ष प्रतिभा कौशिक ने कहा कि प्रोत्साहन भत्ता की धनराशि वर्ष 2017 में दिए जाने की घोषणा की गई थी, जो अब तक नहीं दी गई है। इसको लेकर संगठन में भारी रोष व्याप्त है। सरकार को अति शीघ्र मानदेय बढ़ाकर भुगतान करना चाहिए। कोषाध्यक्ष ललितेंद्र बबेले ने कहा कि हम सभी कर्मचारियों ने कोविड के महामारी काल में भी डटकर कार्य किया है। इसके अलावा बाल विकास जैसे महत्वपूर्ण कार्यों को ईमानदारी के साथ किया जा रहा है। अल्प मानदेय को बढ़ाकर सम्मानजनक दिए जाने की मांग की है। मांगों में बताया कि आंगनबाड़ी व सहायिका की सेवा नियमावली बनाई जाए। 62 वर्ष पार कर चुकीं आंगनबाड़ी कर्मचारियों को बिना पेंशन व ग्रेच्युटी के सेवानिवृत्त कर दिया गया है, जिनमें पेंशन व ग्रेच्युटी देकर सेवानिवृत्त किया जाए। रुके हुए मानदेय का भुगतान किया जाए। मिनी आंगनबाड़ी कर्मचारी को सामान्य आंगनबाड़ी के समान मानेदय दिया जाए। अंत में हेलीकॉप्टर दुर्घटना में देश के पहले सीडीएस विपिन रावत के निधन पर शोक व्यक्त किया गया। इस दौरान विमला देवी, विवेक व्यास, प्रभादेवी, सीमा वर्मा, ऊषाराजा बुंदेला, पार्वती नामदेव, शोभा, शकुंतला, अनीता परमार, मिथलेश, रामदेवी, रमादुबे, आशादेवी, विनीता देवी, फूलकुंवर, अमरवती, राजकुमारी, चंदादेवी, उर्मिला, किरन सेन, मीनाक्षी, नीलू दुबे, कमला, राजवती, अनुराधा, ममता, बेनीबाई, गीता देवी आदि मौजूद रहीं।


👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇