69000 भर्ती में शिक्षकों की नियुक्ति के पांच महीने बाद भी वेतन का इंतजार


परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों में 69000 सहायक अध्यापक भर्ती के तृतीय चरण में चयनित जिले के 70 शिक्षक नियुक्ति के पांच महीने बाद भी वेतन नहीं पा सके हैं। तृतीय सूची के चयनित 6696 अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग जून के अंतिम सप्ताह में कराई गई थी। प्रयागराज में 23 जुलाई को नियुक्ति पत्र वितरित किया गया और नवंबर के मध्य में 70 शिक्षकों का विद्यालयों में पदस्थापन आदेश जारी हो गया।


उसके बाद से ये शिक्षक अपने- अपने विद्यालयों में सेवा दे रहे हैं। इन शिक्षकों के शैक्षिक अभिलेखों का सत्यापन नहीं होने के कारण अब तक वेतन नहीं मिल सका है। चयनित शिक्षकों का कहना है कि इससे पहले 69000 भर्ती के पिछले दो चरणों की भर्ती में लगभग 62000 शिक्षकों को शैक्षिक प्रमाणपत्रों के सत्यापन बगैर वेतन जारी कर दिया गया था।

प्रयागराज | वरिष्ठ संवाददाता शासन के 19 मई के आदेश पर इन शिक्षकों से शपथपत्र लेकर वेतन जारी हो गया था। उसी शासनादेश के आधार पर तृतीय चरण में नियुक्त लगभग 20 से 25 जिलों में दीपावली से ही वेतन जारी हो चुका है। लेकिन अब भी प्रयागराज समेत कई अन्य जिलों में नवनियुक्त शिक्षकों को वेतन नहीं मिल पा रहा है। इनमें से तमाम शिक्षक ऐसे हैं जो दूरदराज के जिलों के रहने वाले हैं।

कई शिक्षक प्रयागराज में किराए पर कमरा लेकर तथा प्रतिदिन 40-50 किलोमीटर सफर करके पढ़ाने जाते हैं। वेतन न मिलने से इन्हें कमरे का किराया, प्रतिदिन का बस का किराया तथा खाने-पीने आदि की भी समस्याओं से जूझना पड़ रहा है।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇