टीईटी पेपर लीक मामले में आरोपी शिक्षक निलंबित


लखनऊ। हाथरस जनपद में सिकंदराराऊ विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय देवर पनाखर के प्रभारी प्रधानाध्यापक पर शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) के पेपर लीक मामले में शामिल होने का आरोप है। इसे लेकर समाचार पत्रों में प्रकाशित खबर के आधार पर खंड शिक्षा अधिकारी (बीईओ) की रिपोर्ट पर बेसिक शिक्षा अधिकारी (बीएसए) ने आरोपी शिक्षक निर्दोष कुमार के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की है।




प्राथमिक विद्यालय देवर पनाखर में प्रभारी प्रधानाध्यापक के पद पर तैनात निर्दोष कुमार तीन दिसंबर से लगातार अनुपस्थित चल रहा है।


बीईओ सिकंदराराऊ द्वारा बीएसए को प्राप्त कराई रिपोर्ट में कहा गया है कि अनुपस्थित चल रहे शिक्षक निर्दोष कुमार के बारे में समाचार पत्रों के माध्यम से जानकारी मिली है कि वह यूपी टेट पेपर लीक मामले में आरोपी हैं और 13 दिसंबर को उन्होंने कोर्ट में समर्पण कर दिया है। बीएसए ने निर्दोष कुमार को अनधिकृत रूप से विद्यालय से अनुपस्थित रहने और यूपी टेट पेपर लीक मामले में आरोपी होने के मामले तत्काल प्रभाव से निलंबित किया है।


गौरतलब है कि टीईटी-2021 परीक्षा 28 नवंबर को प्रस्तावित थी उसी दिन प्रश्न पत्र लीक होने के बाद परीक्षा को निरस्त किया गया था। उस समय बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सतीश द्विवेदी ने एक महीने की अवधि में दोबारा टीईटी आयोजित कराने का दावा किया था। लेकिन करीब दो महीने बाद 23 जनवरी को परीक्षा आयोजित की जाएगी।

प्रदेश सरकार ने टीईटी प्रश्न पत्र लीक मामले की जांच एसटीएफ को सौंपी है। एसटीएफ ने मामले में अब तक 22 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। सरकार ने प्रथम दृष्टया दोषी सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी संजय उपाध्याय को निलंबित कर दिया था। उपाध्याय अभी जेल में है।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇