केंद्रीय अस्पतालों डॉक्टरों की भर्ती अब लिखित परीक्षा से


केंद्रीय अस्पतालों में डॉक्टरों की सीधे इंटरव्यू से भर्ती नहीं

नई दिल्ली। केंद्र सरकार के अस्पतालों में गैर अकादमिक रेजिडेंट डॉक्टरों की नियुक्ति अब सिर्फ साक्षात्कार के जरिए नहीं होगी। नियुक्ति के लिए लिखित परीक्षा ली जाएगी और उसके बाद काउंसिलिंग के जरिए उनका चयन किया जाएगा। स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय के आदेश के अनुसार, नियुक्ति प्रक्रिया पारदर्शी बनाने के लिए यह कदम उठाया गया है।





गैर अकादमिक रेजिडेंट डॉक्टरों की नियुक्ति के लिए अभी अलग-अलग प्रक्रिया थी। कहीं, लिखित परीक्षा होती थी, तो कहीं साक्षात्कार भी लिया जाता था। बड़े अस्पतालों में प्रोफेसरों, वरिष्ठ डॉक्टरों के अलावा ऐसे डॉक्टर भी होते हैं जो 24 घंटे अस्पताल परिसर में रहते हैं या हमेशा ड्यूटी के लिए तैयार होते हैं। ये रेजिडेंट डॉक्टर कहलाते हैं। कुछ रेजिडेंट डॉक्टर ऐसे होते हैं, जो वहां ड्यूटी देते हैं और अकादमिक पाठ्यक्रम में भी हिस्सा लेते हैं। वहीं कुछ सिर्फ ड्यूटी करते हैं, उन्हें गैर अकादमिक रेजिडेंट डॉक्टर कहा जाता है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇