निरीक्षण में तीन स्कूल बंद मिले, गैरहाजिर मिले 46 शिक्षक

 फिरोजाबाद। परिषदीय स्कूलों को हकीकत को परखने के लिए लगातार दूसरे दिन भी शिक्षाधिकारियों ने निरीक्षण किया। बृहस्पतिवार को भी 15 टीमों ने जिले के तीन ब्लॉक के सिर्फ 84 स्कूल जांचे। यहां 46 शिक्षक और शिक्षामित्र गैरहाजिर मिले तीन विद्यालयों में ताला लगा मिला। बच्चे विद्यालयों के बाहर गुरुजी का इंतजार करते दिखे।  महानिदेशक स्कूली शिक्षा विजय किरन आनंद के आदेश पर पूरे प्रदेश भर में स्कूलों का निरीक्षण कराया जा रहा है। जिले में बीएसए अंजलि अग्रवाल ने इसके लिए 15 टीमें बनाई दस खंड शिक्षाधिकारियों को दंडला ब्लॉक में निरीक्षण के लिए भेजा। जिन शिक्षकों को निरीक्षण की सूचना मिली वह दौड़ते-दोड़ स्कूल पहुंचे। 





ढूंडला में खंड शिक्षाधिकारियों को तीन स्कूल बंद मिले। प्राथमिक स्कूल बनकट, अजीत एवं पवि नगला सिंघी पर ताले लटके हुए थे। अधिकारियों को इसके साथ ही टुंडला में कई शिक्षक भी गैरहाजिर मिले। वहीं चार जिला समन्वयकों ने एका ब्लॉक के स्कूलों में निरीक्षण किया। यहां भी कई शिक्षक गैरहाजिर मिले बीएसए अंजली अग्रवाल ने खुद मदनपुर ब्लॉक के स्कूलों का निरीक्षण कर बच्चों का शैक्षिक स्तर परखा। बच्चों से पहाड़े सुने और किताबें भी पड़वाई। कई जगह शिक्षा का स्तर ठीक न मिलने पर शिक्षकों को सख्त हिदायत दी।



बीएसए अंजलि अग्रवाल ने बताया कि जिले भर में 46 शिक्षक और शिक्षामित्र गैर हाजिर मिले हैं। इसके साथ ही तीन स्कूल बंद मिले। देरी से स्कूल आने वाले शिक्षकों के वेतन आहरण पर रोक लगा दी गई है

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇