एक साथ 84 परिषदीय स्कूलों पर धमकी टीम, आठ शिक्षकों समेत 34 अनुपस्थित

सोनभद्र:  जिले के परिषदीय विद्यालयों में शैक्षिक व्यवस्था बेहतर बनाने के लिए शनिवार को शिक्षा विभाग की दस से अधिक टीमों ने एक साथ चोपन ब्लॉक के 84 स्कूलों का निरीक्षण किया। बड़े पैमाने पर निरीक्षण से शिक्षकों में हड़कंप की स्थिति रही। बीएसए के नेतृत्व में निरीक्षण के दौरान टीमों ने शैक्षिक गुणवत्ता के साथ योजनाओं के क्रियान्वयन की हकीकत देखी। निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित मिले कुल 34 शिक्षक, शिक्षामित्र और अनुदेशक के एक दिन का वेतन-मानदेय बाधित करते हुए उनसे स्पष्टीकरण तलब किया गया है।


जिले के 2061 परिषदीय विद्मेंयालयों में समय से उपस्थिति, शैक्षिक गुणवत्ता, अवस्थापना सुविधा, कायाकल्प, एमडीएम, दीक्षा एप प्रयोग समेत अन्य योजनाओं के क्रियान्वयन की हकीकत देखने के लिए शासन के निर्देश के बाद सतत जांच अभियान संचालित किया जा रहा है। इसके लिए बीएसए हरिवंश कुमार के नेतृत्व में गठित जिले के सभी बीईओ के साथ जिला समन्वयकों की दस से अधिक टीमों ने न्याय पंचायत वार शनिवार को चोपन ब्लॉक के अलग-अलग स्कूलों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान बच्चों से सवाल पूछकर शैक्षिक गुणवत्ता देखी गई। बीएसए हरिवंश कुमार ने एमडीएम के तहत तैयार भोजन को स्वाद भी चखा। इस दौरान आधार नामांकन व अपलोडिंग समेत अन्य योजना के क्रियान्वयन की हकीकत देखी। निरीक्षण के दौरान अलग-अलग विद्यालयों के कुल आठ शिक्षक, सात शिक्षामित्र और 19 अनुदेशक सहित कुल 34 कर्मचारी अनुपस्थित मिले। निरीक्षण के बाद प्रेरणा पोर्टल पर रिपोर्ट अपलोड करने के बाद निरीक्षण में मिली कमियों को दूर करने का निर्देश प्रधानाध्यापकों को दिया। निरीक्षण रिपोर्ट के आधार पर बीएसए हरिवंश कुमार ने अनुपस्थित मिले सभी शिक्षकों, शिक्षामित्रों और अनुदेशकों का एक दिन का वेतन बाधित करते हुए स्पष्टीकरण मांगा गया है। इस मौके पर बीईओ चोपन सुनील प्रजापति, अशोक सिंह घोरावल, पीएस राम नगवां, धनंजय सिंह राबर्ट्सगंज, अरविंद यादव करमा, देवमणि पांडेय कोन, अरविंद पटेल चतरा, विश्वजीत कुमार म्योरपुर, महेंद्र मौर्या दुद्धी, बीईओ बृजेश सिंह बभनी और डीसी एमडीएम रमेश चौरसिया, डीसी निर्माण राकेश सिंह, जय किशोर वर्मा सहित अन्य मौजूद रहे।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇