हिंदी के गुरुजी नहीं जानते संज्ञा - विशेषण, बीईओ ने निरीक्षण के दौरान सातवीं, आठवीं को पढ़ाने वाले शिक्षक से किए सवाल


 बीईओ ने निरीक्षण के दौरान सातवीं, आठवीं को पढ़ाने वाले शिक्षक से किए सवाल 
पडरौना । विशुनपुरा बीईओ ने शनिवार को क्षेत्र के चार विद्यालयों का निरीक्षण किया निरीक्षण के दौरान कमियां मिलने पर उन्होंने नोटिस देकर स्पष्टीकरण मांगा है। इस कार्रवाई से परिषदीय विद्यालयों के शिक्षकों में हड़कंप मचा हुआ है।
शनिवार को बीईओ देवमुनि वर्मा ने विभिन्न परिषदीय विद्यालयों का निरीक्षण किया। वह सबसे पहले सुबह आठ बजे प्राथमिक विद्यालय चक्रधर छपरा पहुंचे, जहां सभी
अध्यापक उपस्थित मिले। एक महिला शिक्षक मातृत्व अवकाश पर थीं। विद्यालय में मल्टीपल हैंडवॉश नहीं बना था।
विद्युत कनेक्शन नहीं था। बीईओ ने मल्टीपल हैंडबाल एक सप्ताह में लगवाने के साथ ही झटपट पोर्टल पर विद्युत कनेक्शन का आवेदन करने के निर्देश दिए। इसके बाद सुबह नौ बजे पटेरा बुजुर्ग उच्च प्राथमिक विद्यालय पहुंचे। यहां तैनात शिक्षक समशुद्दीन से उन्होंने शिक्षक डायरी मांगी। वह शिक्षक डायरी उपलब्ध नहीं करा सके। बीईओ से उन्होंने बताया कि कक्षा छह, सात और आठवी की हिंदी पढ़ाते हैं। इस  पर बीईओ ने संज्ञा और विशेषण


को परिभाषा पूछो तो वह इसकी परिभाषा नहीं बता सके। इसी तरह पटेरा माथी छपरा स्थित प्राथमिक विद्यालय के निरीक्षण में तैनात रामभल और दुर्गा प्रसाद से ईमानदार व ईमानदारी शब्द में अंतर पूछा तो वह नहीं बता सके। किसी शिक्षक के पास शिक्षक डायरी भी नहीं भी इस पर नाराजगी जताते हुए उन्होंने एक सप्ताह के अंदर स्पष्टीकरण मांगा। इस संबंध में बीईओ ने बताया कि निरीक्षण के दौरान कमियां मिलने के अलावा कुछ सवालों के जवाब नहीं देने को गंभीरता से लेते हुए तीन शिक्षकों को नोटिस देकर उनसे एक सप्ताह में स्पष्टीकरण मांगा गया है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇