शिक्षक भर्ती परीक्षा का इंतजार कर रहे परीक्षार्थियों को लगा झटका:- परीक्षार्थी बोले, यूपी टीईटी के लिए करना पड़ सकता है लंबा इंतजार


प्रतापगढ़। 69000 शिक्षक भर्ती की परीक्षा संपन्न होने के बाद बीएड और डीएलएड परीक्षार्थियों को लगभग पांच माह से आगामी शिक्षक भर्ती परीक्षा का इंतजार है। टीईटी परीक्षा के बाद शिक्षक भर्ती परीक्षा का विज्ञापन जारी होना था। परीक्षार्थी भर्ती परीक्षा की तैयारी में जुटे 1 हुए हैं, लेकिन शिक्षक पात्रता परीक्षा निरस्त हो जाने से उन्हें तगड़ा झटका लगा है। अब उन्हें इस बात की चिंता सता रही है कि यूपीटीईटी परीक्षा कब होगी। यूपीटीईटी के बाद चुनाव आ जाने की वजह से शिक्षक भर्ती परीक्षा लटक जाने का डर सता रहा है।


शिक्षक भर्ती परीक्षा में पहले हाईस्कूल, इंटर, स्नातक व बीएड और डीएलएड में प्राप्त अंकों के आधार पर गुणांक तैयार किया जाता था। उसके साथ शिक्षक भर्ती परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर मिले गुणांक को मेरिट में जोड़ा जाता था। लेकिन सरकार ने इस बार फैसला लिया है कि यूपीटीईटी व सीटीईटी परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर बनने वाले गुणांक को इस बार मेटि में जोड़ा जाएगा। इसलिए इस बार यूपीटीईटी की परीक्षा में वह भी परीक्षार्थी सम्मिलित हुए थे जिन्होंने यूपीटीईटी परीक्षा पहले से पास कर रखी थी। वह अधिक अंक प्राप्त करने के लिए परीक्षा में सम्मिलित हुए थे। परीक्षा निरस्त होने से ऐसे परीक्षार्थियों को तगड़ा झटका लगा है।

यूपीटीईटी की परीक्षा की तैयारी करीब दो माह से कर रही थी। शिक्षक पात्रता परीक्षा निरस्त होने से अब नए सिरे तैयारी करनी पड़ेगी। इससे समय का नुकसान होगा। सरकार को परीक्षा व्यवस्था चुस्त दुरस्त रखनी चाहिए थी।
-अंजली सिंह

इस बार यूपीटीईटी और सीटीईटी में प्राप्त अंकों के आधार पर शिक्षक भर्ती परीक्षा में गुणांक तैयार किया जाएगा। पूरी तैयारी के साथ परीक्षा के लिए केंद्र पर पहुंचे थे। जिससे अधिक नंबर प्राप्त हो सके। परीक्षा निरस्त होने से निराशा हाथ लगी है। 
दीप्ति शुक्ला

यूपीटीईटी की परीक्षा देने के बाद शिक्षक भर्ती परीक्षा की तैयारी करनी थी। शिक्षक भर्ती का विज्ञापन भी शिक्षक पात्रता परीक्षा के बाद जारी होना था लेकिन परीक्षा निरस्त हो जाने से शिक्षक भर्ती की तैयारी नहीं हो पाएगी।
-अमन

परीक्षा केंद्र घर से काफी दूर होने के कारण सुबह ही निकलना पड़ा। परीक्षा केंद्र परीक्षा देते समय पेपर लीक होने की जानकारी परेशान हो गए। आननफानन में परिजनों को केंद्र पर वापस बुलाना पड़ा। जिससे काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। 
साक्षी मिश्रा

शिक्षक पात्रता परीक्षा का दूसरा पेपर (उच्च प्राथमिक स्तर) देने के लिए केंद्र पर पहुंचना पड़ा। पेपर व्हाट्सएप पर वायरल होने की जानकारी के बाद परीक्षा निरस्त कर दी गई। जिससे निराश लौटना पड़ा।
-नीतेश


उच्चाधिकारियों के निर्देश पर परीक्षा निररस्त कर दी गई। दोनों पालियों की परीक्षा स्थगित हो गई। अग्रिम तिथि की सूचना मिलने पर सभी को जानकारी दी जाएगी।
-डीआईओएस डॉ. सर्वदानंद

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇