UPTET पर्चा लीक : बीच परीक्षा उठाया, कॉपियां छीनीं, हंगामा, सरकार पर तोहमत,फूट-फूटकर रोये परीक्षार्थी


उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटेट) का पेपर लीक होने की सूचना के बाद परीक्षा निरस्त होने पर कई जगह अभ्यर्थियों ने हंगामा किया। पेपर पहली पाली शुरू होने के कुछ ही देर बाद स्थगित कर दिया गया। इसकी सूचना जैसे-जैसे परीक्षा केंद्रों को मिली, कहीं पर आधा घंटे बाद, कहीं 45 मिनट तो कहीं एक घंटे बाद परीक्षार्थियों को बीच परीक्षा उठाया गया और ओएमआर शीट आदि ले ली गईं। इससे नाराज परीक्षार्थियों ने कई केंद्रों पर हंगामा किया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए लौटे।


राजधानी के 99 केंद्रों पर परीक्षा आयोजित हो रही थी। पहली पाली की परीक्षा शुरू होने के थोड़ी देर बाद ही पेपर लीक होने की जानकारी मिली। जैसे ही केंद्र व्यवस्थापकों को परीक्षा निरस्त करने के निर्देश मिले, उन्होंने दरवाजे बंद कराकर ओएमआर शीट आदि जमा करवा लीं, ताकि इसे लेकर कोई जा न सके। कुछ केंद्र के परीक्षार्थियों का आरोप है कि उनसे कॉपियां छींन ली गईं।

पेपर लीक होने से परीक्षार्थियों में काफी नाराजगी व गुस्सा था। नाराज परीक्षार्थियों ने राजकीय इंटर कॉलेज हुसैनाबाद, अग्रसेन इंटर कॉलेज चौक, राजकीय बालिका इंटर कॉलेज आदि केंद्रों के बाहर हंगामा व नाराजगी व्यक्त की। परीक्षार्थियों की नाराजगी को देखते हुए सभी केंद्रों के बाहर पुलिस प्रशासन सतर्क था और परीक्षार्थियों को समझा-बुझाकर वापस घर भेजा।

झांसी में भोपाल, ग्वालियर समेत दूरदराज के छात्र-छात्राएं परीक्षा देने के लिए आए थे। जैसे ही परीक्षा निरस्त होने की जानकारी परीक्षार्थियों को दी गई तो वे नाराज होने लगे। कई छात्र ओएमआर शीट तक देने को तैयार नहीं हुए तो कक्ष निरीक्षकों को छीननी पड़ी। परीक्षा निरस्त होने की जानकारी होने पर कुछ केंद्रों में भगदड़ सी मच गई। घर लौटने के लिए परीक्षार्थियों की भीड़ बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर पहुंची। इससे वहां भी अफरा-तफरी का माहौल हो गया। बाहर से आए परीक्षार्थियों ने लौटने के लिए पहले से ट्रेन का रिजर्वेशन करा रखा था।

ऐसे में उन्हें 10-10 घंटे स्टेशन पर ट्रेन का इंतजार करना पड़ा। वहीं, वाराणसी में अभ्यर्थियों ने जमकर हंगामा मचाया। शहरी और ग्रामीण इलाकों में केंद्रों के पास रास्ता जाम कर परीक्षा व्यवस्था में लापरवाही का आरोप लगाकर नारेबाजी की। अगले महीने इसी प्रवेश पत्र पर परीक्षा कराए जाने का आश्वासन दिए जाने पर अभ्यर्थी माने।

फूट-फूटकर रोये परीक्षार्थी, मेहनत-पैसा दोनों हो गया बर्बाद

परीक्षा निरस्त होने पर कई केंद्रों के परीक्षार्थियों फूट-फूटकर रोने लगे। परीक्षार्थियों ने कहा कि 2019 की भर्ती की परीक्षा अब हुई है। लगभग दो साल से परीक्षा का इंतजार कर रहे थे। दिन-रात परीक्षा की तैयारी में मेहनत कर रहे थे। कइयों ने तो हजारों रुपये कोचिंग की फीस दे दी। पेपर लीक होने से मेहनत, पैसा दोनों बर्बाद हो गया।


👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇