"जाड़े की रात ऐसे गुजारनी पड़ी हो" जानिए UPTET को लेकर वायरल तस्वीर/फोटो का सच

यूपी टीईटी पेपर लीक मामला: सोशल मीडिया पर वायरल हुई खुले में सोते हुए अभ्यर्थियों की तस्वीर, क्या है सच्चाई?जाने
प्रश्नपत्र लीक होने की वजह से रविवार को होने वाली उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) TET के रद्द होने के बाद सोशल मीडिया खासा सरगर्मी है।रविवार को एक यूजर ने एक फोटो पोस्ट कर सवाल पूछा कि रात भर खुले आसमान के नीचे रात बिताकर परीक्षा देने की मंशा रखने वालों का क्या कसूर है?



उधर, उत्तर प्रदेश पुलिस ने अपने हैडल से तुरंत जवाब पोस्ट कर दिया। इसमें कहा गया कि वायरल फोटो UPTET यूपी टीईटी के अभ्यर्थियों की नहीं है बल्कि राजस्थान के युवकों की है। UPTET के परीक्षार्थियों को उनके एड्मिट कार्ड के आधार पर सुविधापूर्वक यूपीएसआरटीसी की बसों से घर भेजा जा रहा है। यह परीक्षा राजकीय व्यय पर पुनः एक माह में आयोजित कराई जाएगी। पुलिस ने लोगों से अपील की कि भ्रामक खबर ना फैलाएं।


सोशल मीडिया पर लोगों ने पुलिस और योगी सरकार को जमकर कटघरे में खड़ा किया है। अभिषेक ने लिखा- अब आप लोग भी फैक्ट चेक करके छोड़ देंगे तो वो भी भ्रम फैलाते रहेंगे, धन्य है यूपी पुलिस। शुभम ने लिखा- मेरे से तो पैसे ले लिए बस कंडक्टर ने यह बोल कर यह आदेश अगली बार के लिए है। दीपक का कहना था कि कृपया करके इस फेक न्यूज़ वाले पर FIR एफआईआर कर अरेस्ट करने की कृपया करे। नही तो ये लोग चुनाव तक ऐसे ही फेक न्यूज़ फैलाते रहेंगे और नफरत फैलाते रहेंगे।


गौरतलब है कि परीक्षा रद्द होने पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार अभ्यर्थियों के साथ खड़ी है, जबकि विपक्षी दलों ने सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए इसे युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ बताया। योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट किया- उप्र टेट का पेपर लीक करने वाले गिरोह के सदस्यों को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए जा चुके हैं।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇