शिक्षामित्रों का मानदेय बढ़ाने पर नहीं बनी सहमति, अधिकारियों ने कही यह बात


लखनऊ। शिक्षा मित्रों का मानदेय 10 हजार से बढ़ाकर 15 हजार रुपये प्रतिमाह करने की मांग पर सहमति नहीं बन सकी है। बेसिक शिक्षा विभाग के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. सतीशचंद्र द्विवेदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई बैठक में अधिकारियों ने शिक्षा मित्रों से कहा कि मानदेय अधिकतम डेढ़ से दो हजार रुपये प्रतिमाह बढ़ाया जा सकता है। इसका निर्णय भी मुख्यमंत्री की मंजूरी के बाद होगा। हालांकि बैठक में कई अन्य मुद्दों पर भी चर्चा हुई।



उत्तर प्रदेश दूरस्थ बीटीसी शिक्षक संघ के अध्यक्ष अनिल यादव ने दावा किया कि बैठक में शिक्षा मित्रों की सेवा आयु 62 वर्ष कराने और प्रति वर्ष 11 माह 29 दिन का मानदेय दिलाने पर सहमति दी गई। वहीं इस पर सहमति बनी कि जो शिक्षा मित्र मूल विद्यालय में जाना चाहते हैं, उन्हें एक मौका दिया जाएगा।

बैठक में विभाग की सचिव अनामिका सिंह, निदेशक सवेंद्र विक्रम सिंह और संयुक्त निदेशक गणेश कुमार मौजूद थे।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇