27.5 लाख कर्मियों-पेंशनरों को जनवरी से 3% बढ़ा डीए - डीआर, इन्हें कर्मचारियों को ही मिलेगा यह लाभ


पिछले कई महीनों से महंगाई भत्ता (डीए) और महंगाई राहत (डीआर) बढने का इंतजार कर रहे 16 लाख राज्य कर्मचारियों और 11.5 लाख सिविल / पारिवारिक पेंशनरों का इंतजार खत्म हो गया है। राज्य कर्मचारियों को पहली जनवरी 2022 से तीन प्रतिशत की बढ़ी दर से डीए और पेंशनरों को डीआर देने के प्रस्ताव को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंजूरी दे दी है। मुख्यमंत्री कार्यालय ने शुक्रवार को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। मुख्यमंत्री की मंजूरी मिलने के बाद वित्त विभाग राज्य कर्मचारियों को पहली जनवरी से 34 प्रतिशत की दर से डीए और पेंशनरों को इसी दर से डीआर देने का शासनादेश जल्द जारी करेगा। कर्मचारियों और पेंशनरों को अभी 31 प्रतिशत की दर से डीए व डीआर का भुगतान हो रहा था।

इन्हें मिलेगा लाभ : बढ़े डीए का लाभ राज्य कर्मचारियों, सहायता प्राप्त शिक्षण व प्राविधिक शिक्षण संस्थाओं, शहरी निकायों के नियमित व पूर्णकालिक कर्मचारियों, कार्य प्रभारित कर्मचारियों और यूजीसी वेतनमानों में कार्यरत पदधारकों को मिलेगा जिनकी कुल संख्या लगभग 16 लाख है।





सरकारी खजाने पर इतना बढ़ेगा बोझ

कर्मचारियों- पेंशनरों को तीन प्रतिशत की बढी दर से डीए डीआर का भुगतान करने पर बीती जनवरी से जुलाई तक सरकारी खजाने पर कुल 974 करोड़ रुपये का बोझ आएगा। इसके बाद हर महीने 220 करोड रुपये व्ययभार आएगा।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇