सरकारी स्कूल के बच्चों को ले जा रहे थे मदरसा


प्रयागराज । जंक्शन पर एक दिन पहले मुक्त कराए गए बच्चों से पूछताछ में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। 15 बच्चों ने बताया है कि वह बिहार व पश्चिम बंगाल के सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे थे। नाम कटवाकर उन्हें मदरसा ले जाया जा रहा था। जिसके लिए सुख-सुविधाओं का लालच भी दिया था। गया

जंक्शन पर एक दिन पहले मानव तस्करी की आशंका में महानंदा एक्सप्रेस से 21 नाबालिगों को उतारा गया था। बच्चों को ले जाने वाले सीतापुर निवासी अब्दुल रब व बिहार निवासी मो. वासिल समेत चार को हिरासत में भी ले लिया गया था।

विस्तृत पूछताछ के बाद बच्चों की काउंसलिंग कराई गई और फिर उन्हें आवासित करा दिया गया। पूछताछ में जो बातें सामने आई हैं, उसकी विस्तृत रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेज दी गई है।

अखिलेश मिश्रा, अध्यक्ष, बाल कल्याण समिति, प्रयागराज ।


वेटिंग रूम में नमाज पढ़ने के मामले की जांच शुरू: उधर

हिरासत में लिए मदरसे के उस्ताद अब्दुल रब के जंक्शन के वेटिंग रूम में नमाज पढ़ने के मामले की जांच शुरू कर दी गई है। एसपी जीआरपी सिद्धार्थशंकर मीणा ने बताया कि जीआरपी व आरपीएफ की संयुक्त टीम को लगाया गया है। रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇