आरोप :- निदेशालय से हो गए मंडल स्तरीय तबादले



निदेशालय से हो गए मंडल स्तरीय तबादले

तबादलों में त्रुटियां गिना रहे कर्मचारियों का आरोप है कि ऐसा व्यवस्था को ठीक से न अपनाए के कारण हुआ है। यूपी एजुकेशनल मिनिस्टीरियल ऑफीसर्स एसोसिएशन के प्रांतीय महामंत्री राजेश चंद्र श्रीवास्तव कहते हैं कि कनिष्ट सहायक, वरिष्ठ सहायक, आशुलिपिक, उर्दू अनुवादक के पद मंडल संवर्ग के हैं और इन पदों के तबादले मंडल स्तर पर कराए जाने चाहिए थे। वहीं प्रधान सहायक, वैयक्तिक सहायक व प्रशासनिक अधिकारी निदेशालय संवर्ग के पद हैं, इसलिए इन पर निदेशालय स्तर से तबादले होने चाहिए थे। पर सारे तबादले निदेशालय स्तर से होने के कारण जमीनी स्थिति का सही आकलन नहीं हुआ और एक ही पद पर दो कर्मचारियों का तबादला हो गया। यही नहीं, जल्द सेवानिवृत्त होने जा रहे या विकलांग कर्मियों का भी गलत तबादला हो गया।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇