शिक्षक के डांटने पीटने से आहत 12 साल के छात्र ने की खुदकुशी


एटा। बागवाला थाना क्षेत्र के गांव कासौन निवासी कक्षा आठ के छात्र सचिन (12) पुत्र नरेश ने घर में फांसी लगाकर जान दे दी। परिजनों का आरोप है कि विद्यालय में शिक्षक के डांटने और पीटने से क्षुब्ध होकर ऐसा कदम उठा लिया। शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। नरेश ने बताया कि थाने में मामले की तहरीर दे दी है। वहीं पुलिस का कहना है कि तहरीर अभी नहीं मिली है।

नरेश ने बृहस्पतिवार को पोस्टमार्टम हाउस पर बताया कि सचिन गांव के विद्यालय में पढ़ता था। बुधवार सुबह वह स्कूल गया था जहां
किसी बात को लेकर साथियों से उसकी मारपीट हो गई। इस पर शिक्षक ने कमरे में बंद कर उसे पीटा और बैग बाहर फेंक दिया। साथ ही परिजनों को बुलाकर लाने के लिए कहा। इससे आहत होकर सचिन ने घर आकर दोपहर बाद करीब दो बजे फांसी लगा ली। अन्य बच्चों के घर पहुंचने पर मामले की जानकारी हुई।

नरेश ने बताया कि वह खेतीबाड़ी के साथ पल्लेदारी का काम करते हैं। बुधवार को काम के सिलसिले में एटा आए थे। पत्नी संगीता खेत पर गई थीं। अन्य बच्चे स्कूल से नहीं लौटे थे, इसी दौरान सचिन ने जान दे दी।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇