दो और शिक्षकों को किया गया बर्खास्त


देवरिया। कूटरचित प्रमाणपत्रों के आधार पर जिले के परिषदीय स्कूलों में नौकरी कर रहे दो और शिक्षकों को सेवा से बाहर कर दिया गया है। ये दूसरों के प्रमाणपत्रों के साथ यहां नौकरी कर रहे थे। इसकी व्यापक जांच एवं कई बार नोटिस जारी होने एवं स्पष्टीकरण नहीं देने के बाद उन पर यह कार्रवाई की गई है। जनपद में पिछले चार साल के अंतर्गत अब तक 55 से अधिक शिक्षकों को फर्जीवाड़ा साबित होने के बाद बर्खास्त किया जा चुका है।बीएसए संतोष कुमार राय ने बृहस्पतिवार को बताया कि बरहज विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय समोगर के
प्रधानाध्यापक चंद्रभूषण यादव के बारे में फर्जीवाड़े की शिकायत मिली थी। वह बलिया जनपद के मनियर विकास खंड के उच्च प्राथमिक विद्यालय दियरा मनियर में तैनात चंद्रभूषण यादव पुत्र तलुक राज यादव निवासी ग्राम हल्दी रामपुर के प्रमाणपत्रों का सहारा लेकर यहां कार्य कर रहे थे। एक ही नाम, पिता का नाम, जन्मतिथि एवं अभिलेखों का प्रयोग कर संबंधित प्रधानाध्यापक द्वारा फर्जी एवं कूटरचित तरीके से बेसिक शिक्षा विभाग में कार्य किए जाने की जांच में पुष्टि हुई है। इसी तरह सलेमपुर विकास खंड के उच्च प्राथमिक विद्यालय धनौती राय की सहायक अध्यापक वीणा रानी के शैक्षिक प्रमाणपत्रों की शिकायत एसटीएफ से की गई थी। शैक्षिक दस्तावेज के अनुसार उक्त शिक्षिका ने रुहेलखंड विवि बरेली से वीणा रानी पुत्री रमेश चंद्र अनुक्रमांक 49518 बीए वर्ष 1993 में आर्य महिला डिग्री कॉलेज, जनपद शाहजहांपुर से उत्तीर्ण की। अंकपत्र के सत्यापन प्रक्रिया में वहां के प्राचार्य ने अवगत कराया कि इसमें संबंधित छात्रा का पता रमेश चंद्र प्रधानाचार्य, केन ग्रोवर्स इंटर कॉलेज, जंग बहादुरगंज, खीरी तथा स्थायी पता गोपाल नारायण वर्मा, तारीन बहादुरगंज, चौहान मेडिकल स्टोर शाहजहांपुर अंकित है। स्थानीय पुलिस से जब इस पते का सत्यापन कराया गया तो पता चला कि वीणा रानी ने गोपाल नारायण वर्मा के यहां रहकर बीए की शिक्षा ग्रहण की तथा वह रमेश चंद्र वर्मा की पुत्री हैं। जो केन ग्रोवर्स इंटर कॉलेज,


जंगबहादुरगंज, खीरी में प्रधानाचार्य पद से सेवानिवृत्त हो चुके हैं। वर्तमान में वीणा रानी जनपद लखीमपुर खीरी में सहायक अध्यापक के पद पर नियुक्त हैं। बीएसए लखीमपुर से भी जब इस संबंध में आवश्यक ब्योरा मांगा गया तो मालूम हुआ कि इसी नाम, शैक्षिक प्रमाणपत्र व पते से सलेमपुर की धनौती राय उप्रावि.भी तैनात हैं। जांच में स्पष्ट हुआ है कि सलेमपुर विकास खंड में तैनात शिक्षिका ने पूर्व माध्यमिक विद्यालय किरियारा, जनपद लखीमपुर खीरी के कूटरचित शैक्षिक दस्तावेजों के आधार पर फर्जी तरीके से चयनित होकर छद्म रूप से यहां नौकरी कर रही है। बीएसए ने बताया कि दोनो शिक्षकों को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है तथा संबंधित बीईओ को इनके खिलाफ विधिक कार्रवाई के लिए निर्देश दिए गए हैं।


👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇