प्रधानों के सहयोग से परिषदीय विद्यालयों की बदल रही तस्वीर


सुरियावां । परिषदीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय एवं राज्य स्तर पर कई प्रयास किए जा रहे हैं। इसी क्रम में बीआरसी सुरियावां में विद्यालय प्रबन्ध समितियों के अध्यक्ष सचिव व ग्राम प्रधानों की ब्लाक स्तरीय

उन्मुखीकरण की संगोष्ठी सम्पन्न हुई। संगोष्ठी में विकास खंड सुरियावां के समस्त ग्राम प्रधान विद्यालय प्रबन्ध समितियों के अध्यक्ष व सचिव गण मौजूद रहें। बैठक में परिषदीय विद्यालयों में कायाकल्प व एमडीएम की गुणवत्ता डीबीटी व अन्य विभागीय योजनाओं की चर्चा की गयी। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए खण्ड शिक्षा अधिकारी सुमन केसरवानी ने कहा कि उन्नीस पैरामीटर में सात पैरामीटर शौचालय में संतृप्त हो जाता हैं हैण्डपम्प के बाद शौचालय सबसे महत्वपूर्ण पैरामीटर हैं । एबीएसए ने कायाकल्प के सभी पैरामीटरों की जानकारी दी व बताया कि विद्यालय में एसएमसी की सबसे महत्वपूर्ण भूमिका हैं | कायाकल्प में प्रधानों के सहयोग से विद्यालयों की तस्वीर बदल रही हैं | ग्राम प्रधान एविद्यालय प्रबन्ध समिति व अध्यापक अगर एक साथ जुड़ जाएंगे तो शासन की मंशा के अनुसार परिषदीय विद्यालयों की दशा सुधर जाएगी।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇