मौसम अपडेट: प्रदेश के कई जिलों में बारिश के साथ तापमान दो से तीन डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की संभावना, ठंडी हवाओं से गिरेगा पारा


लखनऊ। बदली और सुबह हुई बूंदाबांदी ने राजधानी ठण्ड बढ़ा दी है। नवम्बर में शुरू हुई गुलाबी ठण्ड अब कड़ाके की होने जा रही है। लखनऊ एवं आसपास के जिलों में बुधवार से ही बदली छा गयी थी। गुरुवार को ठण्ड बढ़ गई है। मौसम विभाग बता रहा है कि शनिवार को भी सुबह धुंध छाया रहेगा। आने वाले 24 घंटे में मौसम में बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा। बादलों की आवाजाही और बूंदाबांदी की संभावना बनी है। साथ ही साथ ठंडी हवाएं मौसम को बिगाड़ सकती हैं। तापमान और गिरेगा।






कहीं तेज बारिश तो कहीं बूंदाबांदी

मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि उत्तर प्रदेश के कई जिलों में तेजी से मौसम बदलेगा। जहां बारिश होगी वहां पर न्यूनतम तापमान दो से तीन डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। कई जिलों में चमक व गरज के साथ बारिश होगी। सबसे ज्यादा बारिश की संभावना पश्चिमी उत्तर प्रदेश में है।



एक्सपर्ट्स का मानना है कि उत्तराखंड में बर्फबारी शुरू हो गई है। बर्फबारी से ठंडी हवाएं उत्तर प्रदेश तक पहुंचेंगे। ऐसे में उत्तर प्रदेश के कई जिलों में पारा गिरेगा जिससे कड़ाके की ठंड होगी। प्रबल संभावना है कि उत्तर प्रदेश के पूर्वी पश्चिमी क्षेत्रों में बारिश होगी। राजधानी लखनऊ की बात करें तो लखनऊ में अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। राजधानी लखनऊ का मौसम काफी तेजी से बदल रहा है। गुलाबी ठंड से हम कड़ाके की ठंड की ओर बढ़ रहे हैं। ठंड के साथ-साथ राजधानी लखनऊ में कोहरा भी महसूस किया जा रहा है। हालांकि कोहरा सिर्फ सुबह रात में परेशान करता है दिन में कोहरे से खास समस्या नहीं होती है।



ठंड़ी हवा बढ़ाऐंगी ठंड

एक्सपर्ट्स का मानना है कि उत्तराखंड में बर्फबारी शुरू हो गई है। बर्फबारी से ठंडी हवाएं उत्तर प्रदेश तक पहुंचेंगे। ऐसे में उत्तर प्रदेश के कई जिलों में पारा गिरेगा जिससे कड़ाके की ठंड होगी। प्रबल संभावना है कि उत्तर प्रदेश के पूर्वी पश्चिमी क्षेत्रों में बारिश होगी। राजधानी लखनऊ की बात करें तो लखनऊ में अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। राजधानी लखनऊ का मौसम काफी तेजी से बदल रहा है। गुलाबी ठंड से हम कड़ाके की ठंड की ओर बढ़ रहे हैं। ठंड के साथ-साथ राजधानी लखनऊ में कोहरा भी महसूस किया जा रहा है। हालांकि कोहरा सिर्फ सुबह रात में परेशान करता है दिन में कोहरे से खास समस्या नहीं होती है।



हवा चलने से जहां एक और ठंड बढ़ी है तो वहीं दूसरी ओर प्रदूषण भी कम हुआ है। हवा चलने के बाद उत्तर प्रदेश के कई जिलों में प्रदूषण कम होने के परिणाम सामने आए हैं। वैज्ञानिकों ने बताया कि अरब सागर में बने पश्चिमी विक्षोभ के दबाव की वजह से बारिश होगी। राजधानी लखनऊ सहित उत्तर प्रदेश के कई जिलों में हल्की बारिश के आसार हैं।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇