शिक्षक की पिटाई से क्षुब्ध कक्षा आठ के छात्र ने फांसी लगाकर दी जान, परिवार में कोहराम


एटा जनपद में बागवाला थाना क्षेत्र के गांव कासौन निवासी कक्षा आठ के 12 वर्षीष छात्र ने घर में फांसी लगाकर जान दे दी। परिजनों का आरोप है कि विद्यालय में शिक्षक के डांटने और पीटने से किशोर क्षुब्ध था। शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। पुलिस का कहना है कि तहरीर नहीं मिली है।


कक्षा आठ का था छात्रगांव कासौन निवासी नरेश ने बृहस्पतिवार को पोस्टमार्टम हाउस पर बताया कि उनका 12 वर्षीय पुत्र सचिन गांव के ही विद्यालय में कक्षा आठ में पढ़ता था। बुधवार को वह सुबह के समय स्कूल गया। वहां किसी बात को लेकर साथियों से मारपीट हो गई। इस पर स्कूल के शिक्षक ने उसे कमरे में बंद कर मारपीट की और बैग बाहर फेंक कर परिजनों को बुलाकर लाने को कहा। इसी बात को लेकर सचिन ने घर आकर दोपहर करीब दो बजे फांसी लगा ली। अन्य बच्चों के घर पहुंचने पर मामले की जानकारी हुई। नरेश ने कहा कि थाने में तहरीर दे दी है।

पल्लेदारी करता है पितानरेश ने बताया वह खेतीबाड़ी के साथ पल्लेदारी का कार्य करता है। बुधवार को काम के सिलसिले में एटा आया था। पत्नी संगीता देवी खेत पर गईं थी। जबकि अन्य बच्चे स्कूल से नहीं लौटे थे। इस दौरान ही सचिन को फांसी लगाने का मौका मिल गया।पढ़ाई में होशियार था सचिन पोस्टमार्टम हाउस पर गांव के लोगों ने बताया सचिन पढ़ाई में होशियार था। उसे अधिकांश समय पढ़ते ही देखा जाता था। होशियार होने के कारण ही उसके साथ के लड़के उससे पढ़ाई के संबंध में जानकारी करते रहते थे। 

ममला संज्ञान में आया है। विद्यालय में लड़के लड़ाई-झगड़ा कर रहे थे। इस पर शिक्षक द्वारा डांट लगा दी गई और माता-पिता को बुलाने की बात कही थी। छात्र ने घर जाकर फांसी लगा ली। मामले की जांच कराई जाएगी। अगर कोई दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।  संजय सिंह, बीएसए

छात्र द्वारा घर जाकर फंसी लगाई गई है। परिजनों द्वारा अभी तक कोई तहरीर नहीं दी गई है। तहरीर मिलने पर रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच कराई जाएगी। परिजनों का कहना है कि शव का अंतिम संस्कार करने के बाद रिपोर्ट दर्ज कराने आएंगे। कालू सिंह, सीओ सिटी 


👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇