यूपी टीईटी पेपर लीक करने वालों पर गैंगस्टर



मेरठ। यूपी टीईटी का पेपर लीक मामले में आरोपियों पर गैंगस्टर की कार्रवाई की जाएगी। वहीं दूसरी ओर आरोपियों की संपत्ति भी जब्त की जाएगी। वहीं बाकी आरोपी जो अभी फरार हैं, उनकी तलाश में टीम लगी है और गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है।


मेरठ एसटीएफ ने शामली के तीन लोगों को यूपी टीईटी परीक्षा का पेपर लीक कराने के मामले में सबसे पहले गिरफ्तार किया था। इसके बाद बागपत से एक और अलीगढ़ से दो आरोपियों को अभी तक पकड़ा जा चुका है। सभी के खिलाफ शामली और अलीगढ़ में मुकदमे दर्ज कराए गए हैं। सभी आरोपियों को जेल भेजा जा चुका है। वहीं पूरे मामले में आला अधिकारियों के निर्देश पर गैंगस्टर की तैयारी की जा रही है। आरोपियों की प्रॉपर्टी को लेकर जांच हो रही है और इसके बाद आरोपियों की संपत्ति भी कुर्क की जाएगी। वहीं, दूसरी ओर इस मामले में फरार आरोपियों की तलाश में लगातार दबिश दी जा रही है।

इनकी हुई थी गिरफ्तारी: एसटीएफ मेरठ की टीम ने 27 नवंबर की रात को शामली से रवि, धर्मेंद्र और मनीष को गिरफ्तार किया था। आरोपियों के पास से 50 पेपर बरामद किए गए थे। खुलासा हुआ कि इनका साथी बबलू मथुरा में गौरव मलान निवासी टप्पल अलीगढ़ से पेपर पांच लाख रुपये में खरीदकर लाया था। इसके बाद एसटीएफ ने गौरव को पकड़ा तो निर्देश के नाम का खुलासा हुआ। गौरव को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है। शामली पुलिस और अलीगढ़ पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों की प्रॉपर्टी की जानकारी करना शुरू कर दिया है। इसकी संपत्ति की जांच शुरू हो गई है।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇