बच्चों से बर्तन धुलवाने पर बीएसए ने मांगा स्पष्टीकरण


बड़ौत। अमर उजाला में प्रमुखता से प्रकाशित खबर ये कैसी व्यवस्था : जिम्मेदारी रसोइया की, बर्तन धो रहे बच्चे' का शिक्षा विभाग के अफसरों ने संज्ञान लिया है। बीएसए के निर्देशों पर एबीएसए ने संबंधित स्कूलों की प्रधानाध्यापकों से इस संबंध में नोटिस भेजकर जवाब मांगा है। संतोष जनक जवाब न देने विभाग कार्रवाई भी अमल में ला सकता है। 





कोतवाली के पास स्थित प्राथमिक विद्यालय पट्टी चौधरान और ठाकुर द्वार के पास स्थित प्राथमिक विद्यालय पट्टी वाजिदपुर में बच्चों से बर्तन धुलवाए जा रहे थे। इस मुद्दे को अमर उजाला ने पांच दिसंबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। इसका शिक्षा विभाग के अफसरों ने संज्ञान लिया। मामले को गंभीरता से लेते हुए बीएसए ने एबीएसए सतीश शर्मा को मामले की जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए है। साथ ही नोटिस भेजकर शिक्षिकाओं का जवाब मांगने को कहा है।

रसाइयों की जिम्मेदारी बच्चों के बर्तन धोने की होती है। बीएसए के निर्देशों पर दोनों को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है। यदि संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया तो विभाग कार्रवाई भी अमल में ला सकता है। सतीश शर्मा, एबीएसए ।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇