लेखपाल भर्ती परीक्षा का पैटर्न और सिलेबस जारी, जानें- कैसे पूछे जाएंगे सवाल

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (यूपीएसएसएससी) द्वारा प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) 2021 में शामिल अभ्यर्थियों से आनलाइन आवेदन आमंत्रित किए जाने हैं। अभी आवेदन लिए जाने की तारीख तो घोषित  तय नहीं है, लेकिन लेखपाल पद की मुख्य परीक्षा के लिए के लिए परीक्षा योजना और पाठ्यक्रम जारी कर दिया गया है। अभ्यर्थी परीक्षा की तैयारी करने के लिए यूपीएसएसएससी ऑफिशियल वेबसाइट- upsssc.gov.in पर जाकर परीक्षा का सिलेबस और एग्जाम पैटर्न चेक कर सकते हैं।






उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की ओर से जारी परीक्षा योजना और पाठ्यक्रम के अनुसार अभ्यर्थियों से कुल सौ प्रश्न पूछे जाएंगे और हल करने के लिए कुल समयावधि दो घंटा यानी 120 मिनट होगी। परीक्षा योजना में बताया गया कि एक पाली में होने वाली इस परीक्षा के प्रश्न वस्तुनिष्ठ और बहुविकल्पीय प्रकार के होंगे। प्रत्येक प्रश्न एक अंक का होगा। इसमें गलत उत्तर पर प्रश्न के पूर्णांक का एक चौथाई यानी 25 प्रतिशत नेगेटिव मार्किंग भी होगी। इनमें सामान्य हिंदी, गणित, सामान्य ज्ञान और ग्राम्य समाज एवं विकास के विषय होंगे। प्रत्येक के 25-25 प्रश्न पूछे जाएंगे, जो एक-एक अंक के होंगे। इस तरह सौ प्रश्न कुल सौ अंकों के होंगे।


यह होगा पाठ्यक्रम

सामान्य हिंदी : समास, पर्याववाची, विलोम, तत्सम एवं तद्भव, संधियां, वाक्यांशों के लिए एक शब्द निर्माण, लोकोक्तियां एवं मुहावरे, वाक्य संशोधन, लिंग, वचन, कारक, काल, वर्तनी, त्रुटि से संबंधित, अनेकार्थी शब्द, अपठित गद्यांश पर आधारित प्रश्न।

गणित : अंकगणित एवं सांख्यिकी : संख्या पद्धति, प्रतिशतता, लाभ-हानि, सांख्यिकी, आंकड़ों का वर्गीकरण, बारम्बारता, बारम्बारता बंटन, सारणीयन, संचयी बारम्बारता, आंकड़ों का निरूपण, दंड चार्ट, पाई चार्ट, आयत चित्र, बारम्बारता, केंद्रीय माप, समांतर माध्य, माध्यिका एवं बहुलक।



बीजगणित : लघुत्तम समापवत्र्य एवं महत्तम समापवत्र्य और उनमें संबंध, युगपत समीकरण, द्विघात समीकरण, गुणन खंड, क्षेत्रफल प्रमेय।

रेखागणित : त्रिभुज संबंधी पाइथागोरस प्रमेय, त्रिभुज, आयत, वर्ग, समलम्ब, समांतर चतुर्भुज, समचतुर्भुज के परिमाप तथा क्षेत्रफल, वृत्त की परिधि एवं क्षेत्रफल।

सामान्य ज्ञान : सामान्य विज्ञान, राष्ट्र तथा अंतरराष्ट्रीय महत्व की सामयिक घटनाएं, भारत का इतिहास, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन, भारतीय राजव्यवस्था तथा अर्थव्यवस्था, विश्व भूगोल तथा जनसंख्या, सामान्य विज्ञान के प्रश्न, दैनिक अनुभव तथा प्रेक्षण से संबंधित विषयों सहित विज्ञान के सामान्य प्रबोध एवं जानकारी पर होंगे, जिसकी किसी भी सुशिक्षित व्यक्ति से अपेक्षा की जा सकती है, जिसने किसी वैज्ञानिक विषय का अध्ययन नहीं किया हो। भारत के इतिहास के अंतर्गत आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक तथा राजनीतिक पक्षों की व्यापक जानकारी पर ध्यान देना होगा। भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन पर अभ्यर्थियों से भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन की प्रकृति तथा विशेषता, राष्ट्रवाद का अभ्युदय तथा स्वतंत्रता प्राप्ति के बारे में सामान्य ज्ञान अपेक्षित है। भारतीय राज व्यवस्था तथा अर्थव्यवस्था के अंतर्गत भारतीय राज व्यवस्था, भारतीय संविधान, भारत की अर्थव्यवस्था तथा नियोजन के व्यापक लक्षणों की जानकारी पर प्रश्न होंगे। विश्व भूगोल तथा जनसंख्या में केवल विषयों की सामान्य जानकारी की परख होगी, जिसमें भारत के भूगोल में भौतिक, आर्थिक, सामाजिक, जनांकिकीय पक्षों पर विशेष बल दिया जाएगा। अभ्यर्थियों से उपरोक्त की सामान्य जानकारी अभिज्ञा विशेषत: उत्तर प्रदेश के परिप्रेक्ष्य में अपेक्षित है। कम्प्यूटर के प्रारंभिक ज्ञान से संबंधित प्रश्न होंगे।


ग्राम्य समाज एवं विकास : ग्राम्य विकास भारतीय संदर्भ में, ग्राम्य विकास कार्यक्रम, ग्राम्य विकास योजनाएं एवं प्रबंधन, ग्राम्य विकास शोध प्रणालियां, ग्रामीण स्वास्थ्य योजनाएं, ग्रामीण सामाजिक विकास, ग्राम्य विकास और भूमि सुधार, त्रिस्तरीय पंचायतीराज व्यवस्था, केंद्र व राज्य सरकार की ग्राम्य विकास से संबंधित योजनाएं।

सम्मिलित अवर अभियंता परीक्षा लखनऊ में 19 को : परीक्षा नियंत्रक की ओर से बताया गया है कि सम्मिलित अवर अभियंता एवं उप वास्तुविद (सामान्य चयन) प्रतियोगिता परीक्षा 2016 (द्वितीय) के अंतर्गत अभ्यर्थियों के आनलाइन आवेदन आमंत्रित किए गए थे। इसकी लिखित परीक्षा 19 दिसंबर को लखनऊ में होगी। प्रश्न पत्र जारी करने संबंधी सूचना वेबसाइट के माध्यम से दी जाएगी।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇