शिक्षक की अभद्रता से सहमे बीएसए

कंपोजिट स्कूल नाहिली में बीएसए के साथ हुई घटना की शिक्षा विभाग में बुधवार को भी चर्चा बनी रही। घटना से आहत बीएसए ने घटना को लेकर अपना दर्द बयां किया है। स्कूल में शिक्षक ने बीएसए को लगभग डेढ़ घंटे बंधक बनाया और उनके साथ अपमानजनक व्यवहार किया। मेनगेट बंद करवाकर शिक्षक ने बीएसए के साथ हाथापाई ही नहीं की बल्कि रस्सी से उन्हें बांधने की कोशिश भी की। बीएसए को धमकी दी गई कि उनकी लाश ही अब स्कूल से बाहर जाएगी।



कंपोजिट स्कूल में हुई घटना को लेकर बीएसए बेहद भयभीत हैं। उनका कहना है कि उनके जीवनकाल में इस तरह की घटना कभी नहीं हुई। वह 6 दिसंबर को 11:30 बजे शिकायत की जांच करने स्कूल पहुंचे तो कमरे से बाहर निकला शिक्षक राजेश उन पर हमलावर हो गया और मौके पर ही ट्रांसफर करने का दबाव बनाने लगा। बीएसए ने जब समन्वय बनाकर काम करने की बात कही तो राजेश ने उन्हें पकड़ लिया और जबरन कुर्सी पर बैठा लिया। शिक्षकों और ग्रामीणों की भीड़ के बीच अपशब्दों का इस्तेमाल किया गया और हाथापाई की गई।

बच्चों से स्कूल का बंद करा दिया गेट

मैनपुरी। बीएसए का आरोप है कि शिक्षक कह रहा था कि आज उसकी बीएसएगीरी निकाल दी जाएगी। वह लोगों से रस्सी मंगाकर उन्हें बांधने के लिए कह रहा था और चेतावनी दे रहा था कि आज बीएसए की लाश जाएगी। उसने बच्चों को बरगला कर स्कूल का मैनगेट बंद करा दिया। जातिसूचक शब्द इस्तेमाल किए गए।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇