हर स्कूल, कालेज में पुस्तकालय-खेल मैदान सुनिश्चित करें राज्य

: देश के प्रधान न्यायाधीश एनवी रमना ने मंगलवार को कहा कि राज्य सरकारों को सुनिश्चित करना चाहिए कि हर स्कूल और कालेज में पुस्तकालय और खेल का मैदान हो, ताकि छात्रों के विकास में मदद मिल सके।


जस्टिस रमना ने हैदराबाद पुस्तक मेले में समापन भाषण देते हुए कहा कि काफी की तुलना में किताब पढ़ने से ज्यादा स्फूर्ति मिलती है। किताब पढ़ना अच्छी आदत है, क्योंकि यह मन में एक छाप छोड़ती है। वहीं खेलने से बच्चों में खेल भावना बढ़ती है। उन्होंने कहा, मुङो नहीं लगता कि स्कूलों और कालेजों में अब पुस्तकालय हैं। किसी भी स्कूल या कालेज की स्थापना के लिए पुस्तकालय अनिवार्य है। इस नियम का पालन कोई नहीं कर रहा है। यही स्थिति खेल के मैदान की है। यह एक गंभीर मुद्दा है।

एनवी रमना (फाइल)

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇