सरकारी और निजी स्कूलों की होगी जियो टैगिंग, रुकेगा फर्जीवाड़ा

वाराणसी। जिले के स्कूलों में शिक्षकों की तैनाती, छात्रों की संख्या और बुनियादी ढांचे को लेकर होने वाले फर्जीवाड़े अब पूरी तरह से बंद हो जाएंगे। लाखों स्कूलों से जुड़ी ऐसी प्रत्येक जानकारी ऑनलाइन होगी। साथ ही कौन-सा विद्यालय कहां है, यह भी जियो टैगिंग के जरिये देखा जा सकेगा। इस पर काम शुरू हो गया है। अगले छह महीने के भीतर सब ऑनलाइन होगा। खास बात यह है कि इनमें निजी और सरकारी दोनों ही स्कूल शामिल होंगे।





मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने स्कूलों की ओर से गलत जानकारी देकर वित्तीय मदद लेने की शिकायत मिलने पर यह कवायद की है। इनमें सरकारी सहायता प्राप्त स्कूल भी काफी तादाद में है। इन स्कूलों के पास न तो इंफ्रास्ट्रक्चर है और न ही पर्याप्त शिक्षक। इन गड़बड़ियों को रोकने के लिए ही स्कूलों का जीआईएस सर्वे कराया जा रहा है। प्रक्रिया के तहत स्कूलों से ही जानकारी मांगी जा रही है। बाद में इसका थर्ड पार्टी वेरिफिकेशन भी होगा। 

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇