34 शिक्षक व पांच प्रधानों को मिला स्वच्छता पुरस्कार


 गौरीगंज (अमेठी) परिषदीय स्कूलों को आकर्षक बनाने के साथ स्कूल परिसर साफ-सुथरा रखने वाले 34 शिक्षक व इसमें पूर्ण सहयोग करने वाले पांच ग्राम प्रधान सोमवार को स्वच्छता पुरस्कार से सम्मानित किए गए। सम्मान समारोह विकास भवन सभागार में आयोजित हुआ। समारोह में सीडीओ ने चयनित शिक्षकों व ग्राम प्रधानों के अलावा सिंहपुर की बीईओ नूतन जल को भी इस पुरस्कार से नवाजा।




जिले में 1,139 प्राथमिक 234 उच्च प्राथमिक व 197 कंपोजिट परिषदीय स्कूलों में 2.06 लाख बच्चे नामांकित हैं। निजी स्कूलों की तर्ज पर परिषदीय स्कूलों को सुविधा से लैस करते हुए स्वच्छ व सुंदर बनाने के लिए विभिन्न योजनाएं संचालित की जा रही हैं। स्कूलों में स्वच्छता को प्रोत्साहित करते हुए किए गए कार्यों का मूल्यांकन करने के लिए पिछले दिनों स्वच्छता विद्यालय पुरस्कार के तहत आवेदन मांग गया था।





स्कूलों में स्वच्छता के प्रति बेहतर कार्य करने वाले 586 स्कूलों ने श्री स्टॉर के लिए आवेदन किया तो 348 स्कूलों ने फोर स्टार व 30 स्कूलों ने फाइव स्टार की श्रेणी में आवेदन किया

था। आवेदन के बाद प्रसाधन, हैंडवाशिंग, साज-सज्जा, शुद्ध पेयजल की व्यवस्था बच्चों के साथ शिक्षकों का व्यवहार व बिजली व्यवस्था मानकों की जांच की गई।




जांच में 29 विद्यालय सबसे बेहतर श्रेणी में पाए गए। आवेदन के बाद जिला स्तरीय कमेटी ने परीक्षण कर अनुमोदन किया तो राज्य मिशन निदेशक ने समारोह आयोजित कर उत्कृष्ट स्कूलों के प्रधानाध्यापकों को सम्मानित करने को कहा। निदेशक के निर्देश पर सोमवार को विकास भवन सभागार में सम्मान समारोह आयोजित हुआ।



कार्यक्रम में सीडीओ डॉ. अंकुर लाठर ने स्वच्छता पुरस्कार के लिए चिह्नित 29 प्रधानाध्यापकों के साथ कायाकल्प योजना में बेहतर कार्य करने के लिए पांच प्रधानाध्यापतों व इन ग्राम पंचायतों के प्रधानों को सम्मानित किया। बीईओ सिंहपुर नूतन जायसवाल को बेहतर पर्यवेक्षण के लिए पुरस्कृत किया गया कार्यक्रम में बीएसए डॉ. अरविंद कुमार पाठक समेत कई अन्य अफसर मौजूद रहे।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇