छात्र को कमरे में बन्द कर प्रधानाचार्य ने डण्डे से पीटा ,स्वजन का हंगामा, कसूर सिर्फ इतना

मेरठ, Meerut News मेरठ में सातवीं कक्षा के छात्र को प्रधानाचार्य ने कमरे में बंद कर डंडे से पीटा। बच्चे ने घर जाकर स्वजन को बताई तो वह थाने पहुंचे और कार्रवाई की मांग करते हुए हंगामा कर दिया। तहरीर के आधार पर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।






दो छात्रों में हो गया था झगड़ा



ब्रहमपुरी थाना क्षेत्र के भगवतपुरा निवासी कुंदन का 11 वर्षीय बेटा प्रिंस कबाड़ी बाजार प्याउ के पास उच्च प्राथमिक विद्यालय कृष्णापुरी में कक्षा सावतीं का छात्र है। गुरुवार सुबह वह स्कूल गया था। इस दौरान साथ में पढ़ने वाले छात्र ने उसे गाली दे दी, जिस पर दोनों छात्रों में झगड़ा हो गया था। सूचना पर प्रधानाचार्य पहुंच गए। आरोप है कि उन्होंने छात्र को कमरे में बंद कर दिया।



माफी भी मांगी, लेकिन होती रही पिटाई



इसके बाद उसकी डंडे से जमकर पिटाई की। उसने मांफी भी मांगी, लेकिन पिटाई होती रही। छात्र घर पहुंचा और स्वजन को जानकारी दी। उन्होंने थाने पहुंचकर प्रधानाचार्य के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने टालम-टोल किया तो हंगामा कर दिया। स्वजन ने बताया कि बच्चे के शरीर पर चोट के निशान हैं। उसका स्थानीय चिकित्सक से उपचार भी कराया गया था।



यह बताया थाना प्रभारी ने



ब्रह्मपुरी थाना प्रभारी विष्णु कौशिक ने बताया कि चौकी प्रभारी को स्कूल में भेजा था, तो पता चला कि बच्चा ही अन्य छात्रों से झगड़ा करता है। मामले की जांच की जा रही है, जिसके बाद कार्रवाई की जाएगी। एक उच्च प्राथमिक विद्यालय में प्रधानाचार्य ने सातवीं कक्षा के छात्र की डंडे से जमकर पिटाई कर दी। जिसके चलते छात्र के शरीर पर डंडे के निशान बन गए।



शरीर पर पड़ गए नील



इसके बाद उसके शरीर पर नील पड़ गए। छात्र के परिजन प्रिंसिपल के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए ब्रहमपुरी थाने पहुंचे। ब्रहमपुरी थाने में प्रिंसिपल के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए तहरीर दी गई। पुलिस का कहना है कि तहरीर लेकर जांच शुरू कर दी है। जांच के बाद ही प्रिंसिपल के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇