कड़ी निगरानी के बीच में कराई जाएगी टीईटी (UPTET), डीएम ने दिए यह निर्देश

इटावा। टीईटी कड़ी सुरक्षा के बीच कराई जाएगी। परीक्षा में नकल नहीं होने दी जाएगी और जो अभ्यर्थी मास्क लगाकर आएंगे, उनका मास्क डस्टबिन में डालकर दूसरा मास्क दिया जाएगा, ताकि नकल या डिवाइस छुपाने की कोई संभावना न रहे।


विकास भवन में आयोजित बैठक में तैयारियों की समीक्षा करते हुए डीएम श्रुति सिंह ने सभी केंद्र व्यवस्थापकों से कहा कि परीक्षा को नकलविहीन कराना केंद्र व्यवस्थापकों की जिम्मेदारी है।

परीक्षार्थी को प्रवेश पत्र, काले पेन के अलावा मोबाइल व अन्य इलेक्ट्रानिक उपकरण ले जाने की अनुमति नहीं होगी। बताया कि परीक्षा केंद्र पर केंद्र व्यवस्थापक, पर्यवेक्षक एवं स्टेटिक मजिस्ट्रेट एवं कक्ष निरीक्षक को भी कैमरायुक्त मोबाइल फोन, स्मार्ट फोन ले जाने की अनुमति नहीं होगी।

पूरी परीक्षा की निगरानी के लिए सीसी टीवी कैमरे लगाए जाएंगे। स्टेट स्तर पर कंट्रोल रूम बनाया गया है, वहां से भी परीक्षा केंद्रों की निगरानी की जाएगी।

डीएम ने कहा कि परीक्षा केंद्र का मुख्य द्वार परीक्षा शुरू होने से 45 मिनट पूर्व खोला जाए, ताकि परीक्षार्थियों को किसी प्रकार की परेशानी न हो। परीक्षा शुरू होने के निर्धारित समय पर केंद्र का मुख्य द्वार बंद कर दिया जाएगा।
इसके बाद किसी भी परीक्षार्थी को प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। जिला विद्यालय निरीक्षक राजू राणा ने बताया कि शिक्षक पात्रता परीक्षा 29 केंद्रों पर 28 नवंबर को दो पालियों में संपन्न होंगी।
जिसमें प्राथमिक स्तर, उच्च प्राथमिक स्तर के छात्र शामिल होंगे। परीक्षा प्रथम पाली में प्रात: 10 बजे से 12.30 बजे तक तथा द्वितीय पाली में दोपहर 2.30 बजे से 5.00 बजे तक होगी।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇