सावधान! कहीं आपका बेटा ऐसा तो नहीं कर रहा- मां ने पढ़ाई के लिए दिया मोबाइल बेटे ने गेम में लुटा दिए 22 लाख

आनलाइन क्लास के लिए मिले मोबाइल फोन की वजह से मासूम बच्चे कई बार बुरी आदतों के शिकार हो जा रहे हैं। यहां का एक 13 वर्षीय किशोर आनलाइन गेमिंग के जाल में ऐसे फंसा कि टास्क पूरा करने के लिए मां के बैंक खाते से 22 लाख रुपये गंवा दिए। इसका पता तब चला जब मां पासबुक अपडेट कराने गई। पुलिस के मुताबिक साइबर ठगों की पहचान संतोख कुमार सिंह, पुतुल दास, तन्नु कुमारी और चंद्रकला सिंह के रूप में हुई है। ये सभी बंगाल के रहने वाले हैं। अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।


अमृतसर के छेहरटा के एक पूर्व सैन्य अधिकारी के 13 वर्षीय बेटे को आनलाइन गेमिंग की लत लग गई। पिता की मौत के बाद उसकी मां अमनदीप कौर ने बीमा और अन्य वित्तीय लाभ के पैसे बैंक खाते में जमा कराए थे। अमनदीप के अनुसार वह बैंक में पासबुक अपडेट कराने गईं तो पता चला कि अलग-अलग तारीखों में खाते से 22 लाख रुपये ट्रांसफर किए गए हैं। यह पैसा अलग-अलग डिजिटल पेमेंट वालेट में गया है। उन्होंने इस बारे में बेटे से पूछा तो उसने सारी बात बता दी।

साइबर ठग ने पैसे मंगवाए, पर आइडी नहीं बनाई : बेटे ने बताया कि आनलाइन क्लास के साथ ही वह आनलाइन मल्टीप्लेयर गेम खेलता है। गेम में नए टास्क जोड़ने व पुराने टास्क पूरे करने के लिए उसने इंटरनेट मीडिया साइट पर सर्च किया। इस दौरान वह एक गेम चैनल आपरेटर के संपर्क में आया। आपरेटर ने उसे फोन पर बताया कि वह एक ऐसी गेमिंग आइडी बनाएगा, जिससे वह रहस्यमयी और नई गेम खेल पाएगा। इसका टास्क भी पूरा करा देंगे।

’>>मां ने आनलाइन क्लास के लिए दिया था मोबाइल फोन

’>>बंगाल के चार लोगों पर साइबर ठगी का केस दर्ज

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇